बंधन उरांव हत्याकांड: बहन की मौत से आक्रोशित भाई ने सहयोगी के साथ मिलकर की थी हत्या

गुमला। गुमला जिले के घाघरा थाना पुलिस ने बंधन उरांव की हत्या मामले में खुलासा करते हुए तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. ईट भट्ठे में काम करने वाली रिंकी देवी की मौत से आक्रोशित भाई ने बंधन उरांव की हत्या रिश्तेदारो के साथ मिलकर की थी. मामले में पुलिस तीन आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. गिरफ्तार आरोपियों में घाघरा थाना क्षेत्र के नावाडीह निवासी इंद्रजीत सिंह, पूसो थाना क्षेत्र के निजमा निवासी कुलदीप सिंह और घाघरा थाना क्षेत्र के रन्हे निवासी रामनाथ उरांव का नाम शामिल हैं. हालांकि घटना में संलिप्त एक आरोपी सतीश सिंह फरार है, जिसकी गिरफ्तारी के पुलिस छापेमारी में जुटी है.

एसडीपीओ मनीष चंद्र लाल ने बताया कि सितंबर महीने में घाघरा की रहने वाली मजदूर दलाल चामो देवी ईंट भट्ठा में कमाने के लिए अपने साथ रिंकी देवी, रानी देवी को लेकर गई थी. जहां पर पहले ही रान्हे निवासी सरदार रामनाथ उरांव और बंधन उरांव काम कर रहे थे. इसी दौरान पिछले 9 अक्टूबर को ईंट भट्ठा में काम के दौरान रिंकी देवी की मौत हो गई. रिंकी की मौत की सूचना रानी देवी ने उसके भाई कुलदीप सिंह एवं उसके पति सतीश सिंह को दी और आशंका जताई कि रिंकी की हत्या भट्ठा में साथ काम करने वाले बंधन उरांव द्वारा की गई है. बाद में रिंकी के पति सतीश ने रामनाथ के घर जाकर उसकी पत्नी चामो को पति के माध्यम से बंधन को घाघरा लाने की धमकी दी. इसके बाद रामनाथ बहला-फुसलाकर बंधन को अपने साथ गांव लौट आया है. इसके बाद वह बंधन उरांव को उसे लेकर रन्हे गांव गया. जानकारी मिलने पर सतीश सिंह, इन्द्रजीत सिंह और कुलदीप सिंह पहुंचे तो बहस हुई इसी दौरान मारपीट भी हुई. बंधन उरांव गंभीर रुप से जख्मी हो जाता है. इजाल के बहाने बंधन उरांव को अपने साथ ले गये और चढ़ेया में रुककर पेट्रोल और माचिस खरीदा. नीमढ़लान के पास परसागढ़ा पहुंचने पर बंधन उरांव का सतीश सिंह और इंद्रजीत सिंह गला दबा कर हत्या कर देता है. हत्या के अपराध में पकड़े न जाये बंधन उरांव पर पेट्रोल छिड़ककर जला देता है.

रिकी देवी के मामले में जीरो एफआईआऱ दर्ज
वही पुलिस गिरफ्तार आरोपी कुलदीप सिंह के बयान पर रिकी देवी मामले में जीरो एफआईआर दर्ज किया है. कुलदीप सिंह रिकी देवी का भाई है. पुलिस जीरो एफआईआर दर्ज कर संबंधित थाना यूपी के गाजीपुर जिले के खानपुर थाना को भेज दिया है. मामले में ईट भट्ठा के मालिक, मुंशी, मृतक बंधन उरांव और अन्य लोगों पर प्राथमिकी दर्ज किया है.

पुलिस को मिला था अज्ञात शव
10 अक्टूबर को गुमला जिले घाघरा थाना क्षेत्र से एक अज्ञात युवक का अधजला शव बरामद किया गया था. ग्रामीणों की सूचना पर घाघरा थाना पुलिस ने आदर निमिया ढलान परसागढ़ा के पास युवक का अधजला शव बरामद किया था. सुबह जब ग्रामीण खेत जा रहे थे तभी उनकी नजर युवक के अधजले शव पर पड़ी. खेत को मिले अधजले शव की पहचान सदर थाना क्षेत्र के पनसो निवासी बंधन उरांव के रूप में हुई थी.

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *