धर्म गुरुओं, बुद्धिजीवियों, शांति प्रिय व्यक्तित्व और समाज सेवियों को किया गया आमंत्रित

लोहरदगा। जमीयत उलेमा-ए-हिन्द लोहरदगा जिला समिति के तत्वावधान में आगामी 27 नवंबर को न्यू रोड लोहरदगा स्थित होटल रॉयल ग्लैक्सी में सर्वधर्म सद्भावना संसद आयोजन की तैयारियां पूरी कर ली गई है। संसद में उपायुक्त, पुलिस कप्तान, अनुमंडल पदाधिकारी, एसडीपीओ, लोकसभा सांसद प्रतिनिधि, राज्यसभा सांसद प्रतिनिधि, धर्म गुरुओं, बुद्धिजीवियों, शांति प्रिय व्यक्तित्व और समाज सेवियों को आमंत्रित किया गया है। उक्त आशय की जानकारी उलेमा-ए-हिन्द लोहरदगा जिला के अध्यक्ष हजरत मौलाना अहसन मोजाहिरी, महासचिव मौलाना अब्दुल हमीद मोजाहिरी ने संयुक्त बयान जारी कर दी है। बयान में उलेमा द्वय ने कहा है कि देश की वर्तमान हालात से सभी भलीभांति परिचित हैं। इन दिनों साम्प्रदायिकता और घृणा अपने चरम पर है, जो हमारे देश भारत की साझा संस्कृति और मूल्यों के लिए सीधी चुनौती है। इससे न केवल अमन-शांति और सुरक्षा स्थापित करने के प्रयासों में बाधा पहुंचती है, बल्कि मानवाधिकारों और सतत विकास की राह में भी यह रूकावट है। इन परिस्थितियों में हमारा मानना है कि धर्म गुरुओं, बुद्धिजीवियों, शांति प्रिय व्यक्तित्व और समाजसेवी द्वारा सही जानकारी फैलाने और नफरत एवं कट्टरता को रोकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। इसलिए जमीयत उलेमा-ए-हिन्द ने सर्वधर्म सद्भावना संसद का आयोजन किया है। इसके जरिए एकता, सम्प्रदायिक सौहार्द बढ़ाने, समाज में शांति स्थापना और साझा मूल्यों के विषय पर विचार-विमर्श करने और चर्चा करने का आह्वान किया है। उलेमा द्वय ने धार्मिक नेताओं, शांति प्रिये लोगों और समाज सेवियों का आह्वान किया कि 27 नवंबर दिन रविवार को होटल रॉयल गैलेक्सी, न्यू रोड, लोहरदगा में पूर्वाह्न 10:00 बजे से सर्वधर्म सद्भावना संसद में उपस्थित होकर अपनी नेक एवं कीमती विचारों से जिले में सम्प्रदायिक सौहार्द को प्रगाढ़ करने में सहयोग करें।

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *