फर्जी एप से करते थे ठगी, दुकानदारों को लगाया चूना , गुमला पुलिस ने 3 साइबर ठगों को गिरफ्तार कर भेजा जेल।

झारखण्ड उजाला , गुमला । पुलिस ने 3 साइबर ठगों को गिरफ्तार कर शनिवार को जेल भेज दिया है. घाघरा प्रखंड मुख्यालय स्थित पिंटू जूता दुकान से साइबर ठगों ने जूता खरीदा जिसे पेटीएम स्पूफ नामक ऐप से पेमेंट किया. इस संबंध में दुकानदार पिंटू कुमार गुप्ता ने शुक्रवार को घाघरा थाना में लिखित आवेदन देकर ठगी की प्राथमिकी दर्ज कराई।आवेदन में पिंटू ने कहा कि शुक्रवार को एक मोटरसाइकिल में तीन युवक आए और जूता दिखाने को बोला. जिस पर मैंने 1400 का कैंपस का जूता दिखाया, जिसे तीनों ने पसंद किया और ऑनलाइन पेमेंट करने की बात कही. मोबाइल पर सक्सेसफुल ट्रांजैक्शन दिखाया जिस पर मुझे लगा कि दो-तीन मिनट में मेरे अकाउंट में पैसा आ जाएगा. लगभग 10 मिनट बीत जाने के बावजूद भी मेरे अकाउंट में पैसा नहीं आया. तब मैंने उन लोगों का पीछा किया तो चांदनी चौक स्थित एक दुकान में सामान खरीदते दिखाई दिया. जैसे ही ठगों की नजर पिंटू पर पड़ा तीनों भागने लगे. इस दौरान लोगों ने एक युवक को दौड़ाकर पकड़ा, जिसे थाना के हवाले किया. इसके बाद भागे हुए दो ठगों को ईटकिरी ग्राम स्थित एक होटल से पुलिस ने गिरफ्तार किया.इस संबंध में एसआई अभिनव कुमार ने बताया कि रांची टुपुदाना निवासी मोहम्मद शामी अंसारी, कैफी अकरम व अवनीश कुमार मोटरसाइकिल से नेतरहाट जाने के लिए निकला था. इस दौरान तीनों घाघरा स्थित एक जूते की दुकान से जूता खरीदें और पेटीएम स्पूफ नामक ऐप से पेमेंट कर दुकानदार को ट्रांजैक्शन सक्सेसफुल दिखाया और चलते बने. दुकानदार के खाते में पैसा नहीं आने के बाद दुकानदार ने थाना में लिखित आवेदन देकर शिकायत की।जिसके बाद कार्रवाई करते हुए सभी ठगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. तीनों युवकों से पूछने पर युवकों ने बताया कि वे रांची से आने के क्रम में कई दुकान में ठगी कर सामान खरीदारी किया. पेटीएम स्पूफ नामक एप से पेमेंट कर लोगों को बेवकूफ बनाकर साइबर ठगी करने की घटना को तीनों ने थाना में स्वीकार किया।

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published.