लोहरदगा l जदयू जिला अध्यक्ष मनोज मिश्रा ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि झारखंड में लाठी डंडे की सरकार है। विपक्ष को हिंसात्मक ढंग से दबाना यूपीए सरकार की नीति रही रही है, मगर अब वह जमाना गया। आज वर्तमान झारखंड सरकार जिस सत्ता के नशे में चूर हिंसा का सहारा ले रही है, आने वाले समय में भूतपूर्व सरकार कहलाएगी। लोकतंत्र में हिंसा का कोई स्थान नहीं होता, जनता की आवाज को कोई दबा नहीं सकता। गांधीवादी तरीके से शांतिपूर्ण विपक्ष के प्रदर्शन की आवाज को जिस बेदर्दी से दबाया जा रहा है, मानवाधिकार का उलंघन किया जा रहा है, यह संविधान के प्रतिकूल है। मगर बेचारी निकम्मी राज्यसरकर क्या करे, महिलाओं के ऊपर हो रहे अत्याचार को रोक नही पा रही है, अपराध नियंत्रण से बाहर है, स्थानीय नीति, नियोजन नीति का पता नहीं है, रोजगार के द्वार नही खोल पा रही है, तो एक तरकीब निकाली की लाठी मारो और आवाज दबाओ।