साहिबगंज (पतना) : जिला क्षेत्र में शुक्रवार को गणेश चतुर्थी उल्लास और धूमधाम से मनाई गई। इस मौके पर आकर्षक ढंग से सजे मंदिरों मे दिनभर चहल पहल रही। सुबह से शाम तक श्रद्धालु पूजा करने के लिए आते रहे। लोगों ने अपने घरों में भी भगवान गणेश की मूर्ति की स्थापना कर पूजा पाठ किया।
तो वही पतना प्रखण्ड अंतर्गत कटहलबाड़ी पंचायत के कटवारिया व सुरंगा में भी हर साल भाद्रपद (भादो) मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि पर गणेश चतुर्थी का त्योहार मनाया मनाया गया। ग्रामीण ने बताया कि भाद्रपद की चतुर्थी तिथि को भगवान गणेश का जन्मदिन माना जाता है। मान्यता है कि महर्षि वेदव्यास के आह्वान पर इसी दिन गणेश जी ने महाभारत को लिपिबद्ध करना शुरू किया था। इस साल लक्सर व आसपास के क्षेत्र में शुक्रवार को गणेश चतुर्थी का पर्व मनाया गया। नगर व आसपास के देहात में स्थित मंदिरों को इस पर्व के लिए दो दिन पहले से ही सजाना शुरू कर दिया गया था। शुक्रवार सुबह से ही मंदिरों में पूजा करने के लिए श्रद्धालुओं का आवागमन शुरू हो गया। मंदिरों के अलावा लोगों ने अपने घरों में भी खड़िया मिट्टी, फूस, बांस की खपच्चियों आदि से बनाई गई गणेश भगवान की अस्थायी प्रतिमा की स्थापना कर पूजा पाठ किया।