कुडू / लोहरदगा l कुडू के बाज़ार टांड स्थित देवी मंदिर में गणेश चतुर्थी के मौके पर गणपति बप्पा की पूजा पूरे विधि-विधान से की गई। इस वर्ष कोरोना संक्रमण को लेकर सादगीपूर्ण माहौल में सिद्धी दाता, विघ्न विनाशक, प्रथम पूजनीय देव भगवान गणेश की आकर्षक व विहंगम प्रतिमा स्थापित कर परंपरा का निर्वाह किया गया। रूद गांव में बाबा ग्रुप के सदस्यों द्वारा गणेश भगवान की प्रतिमा स्थापित कर पुरे विधि विधान से पूजा की गयी। कम भीड़भाड़ के बावजूद माहौल भक्तिमय रहा तथा लोग विध्न विनाशक की अराधना में डूबे नजर आए। शुक्रवार रात्रि आरती के बाद बगैर भीड़भाड़ के श्रद्धालुओं ने विघ्न विनाशक विनायक की प्रतिमा का दर्शन किया और श्रद्धा पूर्वक प्रसाद ग्रहण किया। कोरोना संक्रमण को लेकर पुरोहितों पंडित लाल मोहन बैध द्वारा राज्य सरकार एवं जिला प्रशासन के आदेशानुसार शारीरिक दूरी के साथ विशेष हवन पूजन कराया गया। इस दौरान भक्तों ने कोरोना महामारी से निजात और विश्व कल्याण की मंगल कामना के साथ साथ अपने परिवार, समाज के कल्याण के लिए भी आशीर्वाद मांगा। पूजा के बाद कुडू बड़ा तालाब में प्रतिमा का विसर्जन किया जायेग। संदीप कुमार, विकी कुमार, आदर्श कुमार, उमंग चौधरी, सोनू कुमार, विकास ताम्रकार, नीरज पासवान, जितेंद्र भारती, अमन भारती, छोटे लाल साहू, अरविंद महतो, दीपक साहू, अनिकेत राम, उर्फ लड्डू, रिशु गिरी, रितेश लोहरा, निकेश भारती, सुजीत उरांव आदि ने पूजा के सफल संचालन में योगदान दिया।