लोहरदगा l जिला शिक्षा पदाधिकारी लोहरदगा श्री अखिलेश कुमार चौधरी के प्रताड़ना और भयादोहन के विरोध मे एक दिवसीय सांकेतिक सत्याग्रह भूख आंदोलन राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित शिक्षक किशोर कुमार वर्मा द्वारा किया गया इस अवसर पर जिला सचिव पेंशनर समाज, जिला सचिव कर्मचारी महासंघ लोहरदगा तथा जिला प्रभारी भाकपा (माले )के महेश कुमार सिंह ने कहा की किशोर कुमार वर्मा का ये आंदोलन सिर्फ सत्य के लिए सत्याग्रह आंदोलन था लेकिन जिस दिन इन्हे प्रताड़ना और भयादोहन करना बंद नहीं किया जायेगा तो पूरा लोहरदगा जिला के सभी राजनितिक और शिक्षक तथा कर्मचारी संघठन एक साथ घेराव का कार्यक्रम करेंगे चुंकि जो शिक्षक दूसरों को आईना दिखाता है दूसरों को सही मार्ग पर चलने की प्रेरणा देता है राष्ट्रनिर्माता के रूप मे नौनिहालों का भाग्यविधाता होता है उनका सम्मान करना चाहिए और अंतिम समय मे उनके ऊपर अत्याचार किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है !प्रमंडलीय अध्यक्ष अखिल झारखण्ड प्राथमिक शिक्षक संघ के अजय कुमार सिंह ने कहा की किशोर कुमार वर्मा ने 1994 मे शिक्षकों को एकजुट करने का काम किये थे और आज अंतिम समय मे भी सभी शिक्षकों को एकजुट करने का काम किये है यदि इनकी मांगों की पूर्ति नहीं की जाएगी तब हम सभी जिला शिक्षा पदाधिकारी के बाध्य करेंगे की प्रताड़ना बंद करें !प्रादेशिक प्रार्थमिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष शैलेन्द्र कुमार सुमन ने शिक्षकों को आह्वान करते हुए कहा की किशोर कुमार वर्मा राष्ट्रपति अवार्डी शिक्षक के साथ नाइंसाफी किया जा रहा है जो निंदनीय और असहनीय है, जिला अध्यक्ष मुमताज़ अहमद ने कहा की मै वर्मा जी को सुरु से जानता हूँ की कॉलेज समय से ये आंदोलन कारी और संघर्षशील रहे है जब कॉलेज यूनियन के अध्यक्ष बने कम उम्र मे वार्ड कमिश्नर बने और शिक्षक बहाली मे आमरण अनशन किये थे और 88शिक्षकों की बहाली कराये थे आज भी अंतिम समय मे आंदोलन करके एक मिसाल कायम कर रहे है !इस अवसर पर गुमला जिला के शिक्षिका सुषमा नाग ने कही की किशोर कुमार वर्मा सिर्फ लोहरदगा के लिए ही नहीं अपितु पूरे झारखण्ड के लिए मार्गदर्शन है और हमेसा क्रियाशील के साथ ईमानदारी से अपना कर्तव्यों का पालन करने वाले शिक्षक के रूप मे आदरणीय है ! बीजेपी जिला अध्यक्ष मनीर उरॉंव ने कहा की एक राष्ट्रपति पुरस्कार शिक्षक को अनशन और आपने अधिकारों पेंशन इत्यादि कार्यों के लिए धरना करना पड़े वो भी झारखण्ड सरकार के वित्त मंत्री के विधान सभा क्षेत्र मे तो ये सरकार के लिए शर्म की बात है जो रास्ता दिखाता हों उनका रास्ता रोकना धिक्कार की बात है, इस अवसर पर झारखण्ड आंदोलन कारी मोर्चा के प्रदीप राणा, समाजसेवी नेतृत्व कर्ता बलबीर देव, शिक्षक सुकरा उरॉंव, संजय सिंह, पूर्व 20सूत्री जिला उपाध्यक्ष राकेश कुमार ने कहा की शिक्षा की ज्योत जलाने वाले के साथ अंधेरा करने वाले पदाधिकारी जिला के लिए दुर्भाग्य की बात है, वार्ड पार्षद कमला देवी तथा अनिल उरॉंव द्वारा भी आंदोलन कार्यक्रम का समर्थन किया गया, धन्यवाद ज्ञापन मोहम्मद असलम सचिव झारखण्ड प्रार्थमिक शिक्षक संघ द्वारा किया गया मंच संचालन राजकुमार वर्मा द्वारा किया गया सत्याग्रह आंदोलन मे राष्ट्रपति अवार्डी शिक्षक गणेश लाल, राहुल कुमार, बैधनाथ प्रजापति, अभिमन्यु भगत, विजय उरॉंव, वकील भगत, दिनेश उरॉंव, सोयब अख्तर, खुर्शीद आलम पूर्व महासचिव राजद, सुरंजन कुमार गुमला, सामाजिक विचार मंच के सागर वर्मा, देवंदन नायक, पंकजपांडेय आदि सैकड़ो शिक्षक उपस्थित रहे l सी.पी.एम. जिला सचिव दिलीप वर्मा जी भी उपस्तिथ रहे