साहिबगंज (बरहेट) : झारखंड जनसेवा एन.जी.ओ की ओर से साहिबगंज जिले के अंतर्गत बरहेट प्रखंड क्षेत्र के बरहेट बाजार पंचायत भवन हाटपाड़ा सभागार में झारखंड जनसेवा एन.जी.ओ के जिला अध्यक्ष मु० आलमगीर उर्फ बादल आलम की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई। इस बैठक में बतौर मुख्य अतिथि झारखंड जनसेवा एन.जी.ओ. के राष्ट्रीय अध्यक्ष एडवोकेट सद्दाम हुसैन उपस्थित रहे। इस बैठक में राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा बताया गया कि हमारे झारखण्ड जनसेवा एन.जी.ओ . एक समाज सेवी एन.जी.ओ. है। इस एन.जी.ओ. का मुख्य उद्देशय है मानव समाज में गरीबी रेखा के नीचे लोगों,आर्थिक रूप से पिछड़े लोगों,मेहनतकश मजदूरों, असहाय महिलाओं,विधवाओं, नि:शक्तों की न्याय एवं कल्याण के लिए कार्य करना। इसके लिए हमारे एन.जी.ओ. झारखण्ड जनसेवा सम्पूर्ण साहेबगंज जिला के प्रत्येक प्रखंड स्तर पर चालीस-चालीस पदों एवं पंचायत स्तर पर चालीस-पदों का विस्तार करेंगें। एन.जी.ओ. के पदाधिकारियों को लेकर, सरकार द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं जैसे-पेंशन, आवास,कन्यादान, मनरेगा,वित्तीय आयोग एवं अन्य में हो रही घूसखोरी-भ्रष्टचारी समाप्त करने के लिए हमारे एन.जी.ओ. सभी प्रकार के सरकारी योजनाओं के बारे में कैम्प/नुक्कड़-नाटक/जागरूकता अभियान चलाकर योजना से संबंधित जानकारी देकर संबंधित लाभुकों को लाभान्वित करने का काम करेंगे। इसलिए हमारे एन.जी.ओ. बरहेट प्रखंड के कार्यकारिणी संगठन का विस्तार किया जाएगा। बरहेट प्रखंड कमेटी का विस्तार झारखंड जनसेवा एनजीओ के साहिबगंज जिला अध्यक्ष मु० आलमगीर उर्फ बादल आलम ने किया। प्रखंड कमेटी में कुल 40 सदस्यों का चयन किया गया। जिसमें मुख्य रुप से प्रखंड अध्यक्ष मो० अफजल अंसारी,प्रखंड उपाध्यक्ष अजय मड़ैया ,संरक्षक जहांगीर आलम,सचिव मुर्शिद आलम ,उप सचिव किस्टु तुरी ,निर्देशक अशोक ठाकुर,महा निरदेशक शिवलाल मालतो, संगठन मंत्री मैदस हांसदा,मीडिया प्रभारी मल्लिक अख्तर एवं अन्य को झारखंड जनसेवा एन.जी.ओ का बरहेट प्रखंड स्तर का पदाधिकारी चयन किया गया। इस बैठक में राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा मो० नसीम अहमद को जिला प्रवक्ता एवं मो० शमीम अंसारी को जिला संगठन मंत्री नियुक्त किया गया। मौके पर उपस्थित झारखंड जनसेवा एन.जी.ओ के राष्ट्रीय अध्यक्ष एडवोकेट सद्दाम हुसैन, साहिबगंज जिला संरक्षक महेंद्र शर्मा, जिला महामंत्री इस्माइल शेख एवं झारखंड जनसेवा एन.जी.ओ के काफी संख्या में सक्रिय सदस्य मौजूद थे।