150ट्रेनों का हुआ निजीकरण , आम नागरिक को जागरूक होने की जरूरत

पाकुड़ : शनिवार को ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन के आह्वान पर ईस्टर्न रेलवे मेंस यूनियन पाकुड़ शाखा द्वारा प्लेटफार्म नंबर एक पर आम यात्रियों के बीच रेल कर्मियों सहित केंद्र सरकार की राष्ट्रीय संपत्ति के मुद्रीकरण की नीति के विरुद्ध प्रदर्शन किया गया । मौके पर शाखा सचिव संजय ओझा ने संबोधित करते हुए बताया कि केंद्र सरकार की इस नीति से राष्ट्र के अधिकतम संसाधन पर निजी कंपनियों का अधिकार हो जाएगा और वह इसका अधिकतम दोहन कर जर्जर अवस्था में छोड़कर चले जाएंगे। साथ ही शिक्षित बेरोजगार युवकों के लिए रोजगार के अवसर और भी कम हो जाएंगेl जिन युवकों को रोजगार मिलेगा वह मानसिक, शारीरिक एवं आर्थिक शोषण के शिकार होंगेl रेलवे में 150 ट्रेनों के निजी करण ,109 रूटों को लीज पर देने पर एवं कई उत्पादन इकाइयों का निजीकरण करने से माल भाड़े एवं यात्री भाड़े में लगभग 3 गुना वृद्धि हो जाएगी जिसका उदाहरण लखनऊ से दिल्ली तक चलने वाली तेजस एक्सप्रेस से पता चलता है क्योंकि लखनऊ से दिल्ली चलने वाली शताब्दी एक्सप्रेस का भाड़ा जहां ₹600 है वही तेजस एक्सप्रेस का भाड़ा निजी कंपनियों द्वारा 1700 रखा गया हैl सरकार की इस नीति से रेलवे के स्लीपर क्लास में मिलने वाली 47% सब्सिडी खत्म हो जाएगी, समाज के विभिन्न वर्गों जैसे वरिष्ठ नागरिक रियायत, छात्रों को मिलने वाली रियायत पत्रकार एवं विकलांगों को मिलने वाली रियायत खत्म कर दी जाएगीl कोविड-19 के कारण आर्थिक तंगी से गुजर रहे नागरिकों को और भी महंगाई का सामना करना पड़ेगा lआम यात्रियों को जागरूक रहने की जरूरत पर बल देते हुए कहा कि अगर सरकार की गलत नीतियों का सही समय पर विरोध नहीं किया गया तो सरकार और भी निरंकुश होती चली जाएगीl सरकार सभी सरकारी सेवाओं का निजीकरण करके अपने दायित्व से भाग रही है क्योंकि प्रत्येक निर्वाचित सरकार का यह दायित्व है कि आम नागरिकों के लिए सस्ती शिक्षा, सुरक्षा व्यवस्था, सस्ती परिवहन व्यवस्था ,शिक्षित बेरोजगारों के लिए रोजगार के नए अवसर पैदा करना होता है। लेकिन वर्तमान सरकार अपनी इस नीति के द्वारा अपने नैतिक दायित्व से भाग रही है और निजी कंपनियों को दोहरा लाभ पहुंचा रही है केंद्र सरकार की नीति का ईस्टर्न रेलवे मेंस यूनियन जोरदार विरोध करती है साथ ही आह्वान करती है की आम नागरिकों के हितों की रक्षा के लिए पूर्व रेलवे में किसी भी प्राइवेट ट्रेन को चलने नहीं दिया जाएगाl इस मौके पर शाखा के कार्यकारी अध्यक्ष मोहम्मद कलीम अंसारी, सह सचिव विक्टर गेम्स, निलेश प्रकाश, संगठन सचिव अमर कुमार मल्होत्रा, केंद्रीय सभा सभासद संजीव कुमार, कुंदन कुमार सिंह, अशोक कुमार दीपक प्रमाणिक, पिंटू लाल पटेल, अमलेश रंजन सहित कई रेल कर्मी मौजूद थे।