गुमला । रविवार को महिला आरोग्य समिति के सदस्यों एवं मोहल्ले वासियों द्वारा वार्ड नंबर 9 अंबेडकर नगर, आजाद बस्ती में बैठक की गई । इस बैठक में असैनिक शल्य चिकित्सा मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी गुमला का पत्रांक 2400 दिनांक 7/9/2021 के संबंध में एवं वार्ड नंबर 9 आजाद बस्ती की शहरी सहिया सैयदा खातून के ऊपर लगाए गए आरोप के संबंध में चर्चा की गई। वार्ड नंबर 9 की साहिया पर लगाए गए आरोप की जांच की जिम्मेदारी शहरी महिला आरोग्य समिति को सौंपी गई थी। शहरी महिला आरोग्य समिति ने जांच के उपरांत बताया कि सैयदा खातून के ऊपर लगाए गए सारे आरोप बेबुनियाद एवं झूठे हैं । वह ईमानदार एवं कर्मठ साहिया है वह अपनी दायित्व का निर्वहन ईमानदारी से करती है एवं लोगों के सभी तरह की समस्याओं के समाधान के लिए तत्पर रहती हैं । शहरी महिला आरोग्य समिति को मोहल्ला वासियों ने बताया कि रीता नामक 1 महिला द्वारा उन्हें लालच दी गई थी, कि बीजेपी के द्वारा सभी को गैस चूल्हा, राशन ,सड़क निर्माण ,नाली निर्माण, स्कूल खुलवाने एवं अन्य सरकारी सुविधा दी जाएगी एवं बीजेपी में महिला सदस्य बनाने के नाम पर झूठ बोलकर सादा कागज में हम लोगों से हस्ताक्षर कराया गया । बाद में हम लोगों को पता चला कि हस्ताक्षर सैया सैयदा खातून के ऊपर आरोप लगाने के लिए कराए गए थे। और साथ ही साथ मोहल्ले वासियों ने कहा कि वार्ड नंबर 9 में शुरू से ही साहिया सैयदा खातून काम कर रही है और आगे भी वार्ड नंबर 9 में सहिया सैयदा खातून ही काम करती रहेगी।