रामगढ़ ( पतरातू )। रविवार को पीवीयूएनएल पतरातू के मुख्य गेट के समीप पूर्व में कार्यरत एस हैंडलिंग सिस्टम के ठेका मजदूरों के द्वारा आगामी 14 सितंबर 2021 को पीवीवीएनएल के मुख्य गेट के समक्ष एक दिवसीय सामूहिक भूख हड़ताल की तैयारी के लिए प्रेस कॉन्फ्रेंस किया गया । प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से 19 स्थायी ठेका मजदूरों ने कहा कि पीवीयूएनएल प्रबंधन लगातार 2017 से आश्वासन देकर ठगने का कार्य करते आ रही हैं। पीवीयूएनएल प्रबंधन ने पूर्व में स्थाई 596 मजदूरों को नियोजित कर लिया है और उसके बाद भी राजनीतिक दबाव में सैकड़ों मजदूरों को यु पी एल के माध्यम से प्रबंधन ने नियोजित किया है परंतु एस हैंडलिंग सिस्टम में कार्यरत 19 मजदूरों को नियोजित करने का कोई पहल नहीं किया जा रहा है। ये मजदूर लगभग 18 वर्षों से प्लांट में अपना सेवा दिए हैं परंतु आज बेरोजगारी के कारण दर-दर भटकने को मजबूर है। मजदूरों ने झारखंड सरकार के मुख्यमंत्री, श्रम मंत्री, मुख्य सचिव एवं जिला प्रशासन तथा प्रबंधन से कई बार लिखित नियोजित करने के लिए आवेदन दिए हैं। परंतु प्रबंधन के उदासीनता के कारण सरकार के बातों को भी अनसुना कर दिया जा रहा है। जबकि 19 मजदूर विस्थापित एवं स्थानीय हैं। आज 19 मजदूरों के सामने भुखमरी जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई है। हम गुहार लगाते लगाते थक गए हैं बाध्य होकर 19 मजदूर एक दिवसीय भूख हड़ताल में बैठने को मजबूर है। भूख हड़ताल पूर्ण रूप से लोकतांत्रिक तरीके से किया जाएगा जिसकी यहां के प्रबंधक, स्थानीय प्रशासन एवं जिला के तमाम पदाधिकारियों को लिखित सूचना दे दी गई है। भूख हड़ताल 14 सितंबर को सुबह 6:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक रखा गया है। इसकी सूचना झारखंड मुक्ति मोर्चा के केंद्रीय सचिव संजीव बेदिया को भी दिया गया है। आज के प्रेस कॉन्फ्रेंस में मुख्य रूप से मोहम्मद मुमताज अंसारी, इरशाद अंसारी, संतोष साव, मतलूब खान, गणपत साव, देव आनंद महतो, उमर अंसारी, राजकुमार पांडे, सुबोध कुमार, फिरोज अंसारी एवं उमर अंसारी इत्यादि उपस्थित थे।