पतरातू । झारखंड सरकार द्वारा विधानसभा भवन में मुस्लिमों को नमाज कक्ष आवंटन को रद्द करने की मांग को लेकर विश्व हिंदू परिषद पतरातू के सदस्यों ने कल प्रखंड विकास पदाधिकारी देवदत्त पाठक को ज्ञापन सौंपा और महामहिम झारखंड राज्यपाल से नमाज कक्ष आवंटन रद्द करने की मांग की है। तथा ज्ञापन में विश्व हिंदू परिषद के सदस्यों ने इसे असंवैधानिक बताया और कहा कि झारखंड प्रदेश में विभिन्न धर्मों के लोग रहते हैं लेकिन एक विशेष समुदाय को नमाज के लिए रूम आवंटन करना यह गलत है। विधानसभा भवन में राज्य की विकास की नीति निर्धारित होती है। जिसमें विधानसभा के कार्य प्रणाली पर जनमानस को आस्था एवं विश्वास होता है। मौजूदा झारखंड सरकार ने फूट डालो शासन करो की नीति अपनाकर समाज के बीच फूट डाल रही है जिससे सामाजिक विद्वेष फैल रही है झारखंड सरकार के उक्त गलत निर्णय के कारण जन आंदोलन आरंभ हो गई है जिससे प्रदेश के विकास कार्यों में अवरोध पैदा हो रहा है जिसका प्रभाव प्रदेश की जनता पर पड़ेगा। तथा महामहिम राज्यपाल से लोकतंत्र के मंदिर विधानसभा भवन की गरिमा महत्ता को समझाते हुए सामाजिक सद्भावना को बनाए रखते हुए आवंटन किए गए रूम को रद्द करने की मांग की है।