सुचारू व कदाचार मुक्त परीक्षा करना प्राथमिकता

हजारीबाग । 19 सितंबर को निर्धारित झारखंड लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा परीक्षा के सफल अयोजन से सबंधित तैयारी बैठक अपर समाहर्ता रंजीत कुमार लाल की अध्यक्षता में हुई।
बैठक में जिला अंतर्गत निर्धारित 88 परीक्षा केंद्रों पर आयोग के गाइड लाइन के अनुरूप, व्यवधान रहित व कदाचारमुक्त सफल परीक्षा आयोजन से सम्बंधित महत्वपूर्ण बिंदुओं पर चर्चा की गई।
बैठक में प्रखंड विकास पदाधिकारियों व अंचल अधिकारियों को निर्देश दिए गए कि अपने अपने प्रखंड क्षेत्र में निर्धारित परीक्षा केंद्रों पर मूलभूत सुविधाओं को सुनिश्चित कराने के लिए सभी केंद्रों का खुद जाकर भौतिक सत्यापन कर ले। केन्द्र पर आयोग की मार्गदर्शिका में निर्धारित मापदंडों के अनुरूप बिजली, पानी, शौचालय, साफ-सफाई,बेंच डेस्क आदि व्यवस्था को समयपूर्व सुनिश्चित कर लेने को कहा गया। उन्होंने कहा कि परीक्षा के दिन आयोजन की सफलता केन्द्राधीक्षकों की सजगता पर निर्भर करेगी कि वे कितनी सुगमता से परीक्षा का आयोजन करते हैं। उन्होंने बताया कि 24 घंटे जिला स्तरीय कंट्रोल रूम कार्यरत रहेगा। किसी भी तरह की समस्या आने पर वे उच्चाधिकारियों से तत्काल संपर्क कर सकते हैं।

उपायुक्त ने सभी केंद्राधीक्षकों को शिक्षकों के साथ बैठककर मार्गदर्शिका का ठीक से अध्ययन करने को कहा। उन्होंने बताया कि परीक्षा दो पालियों में आयोजित की जाएगी। पहली पाली पूर्वाह्न 10 बजे से दोपहर 12 बजे तक तथा दूसरी पाली दोपहर दो से अपराह्न चार बजे तक होगी। सभी केंद्राधीक्षकों को कोविड-19 गाइडलाइन के तहत परीक्षा संचालित करने का निर्देश दिया गया है।