लोहरदगा l अखिल झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ के आह्वान पर राज्य भर के शिक्षकों के साथ लोहरदगा जिले के शिक्षकों ने भी काला विल्ला लगा कर अपने मान सम्मान, स्वाभिमान और अस्तित्व की रक्षा के लिए माननीय वित्त मंत्री श्री रामेश्वर उरांव के द्वारा दिए गए उस बयान का जोरदार विरोध प्रदर्शन किया गया जिसमें उन्होंने कहा था कि सरकारी विद्यालयों में गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा का माहौल नहीं है, निजी स्कूल नहीं होता तो झारखंड के बच्चे गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा में पिछड़ जाते। जिलाध्यक्ष मनी उरांव ने कहा कि शिक्षकों ने अपनी चट्टानी एकता का परिचय देते हुए बतला दिया कि गलत, संकीर्ण मानसिकता और शिक्षकों को अपमानित करने वाले हर बयान का करारा जवाब दिया जाएगा। यदि माननीय मंत्री महोदय समय रहते सार्वजनिक रूप से या मिडिया के समक्ष माफी नहीं मांगी गई तो शिक्षक और भी उग्र आंदोलन करने को विवश हो जायेंगे। सरकारी शिक्षकों को शिक्षण कार्य के अलावा अनगिनत कामों का भार दिया जाता है इसके बावजूद सरकारी स्कूलों के शिक्षकों ने अपनी सेवा भावना से जिम्मेदारी का निर्वहन किया जा रहा है।
निजी स्कूल और सरकारी की तुलना ही करना है तो खुली चुनौती है बहस के लिए मैदान में आएं। आज के आंदोलन को सफल बनाने के लिए लोहरदगा जिले के समस्त शिक्षकों को प्रमंडलीय अध्यक्ष अजय सिंह ,अजाप्ता के जिलाध्यक्ष मनी उरांव, महासचिव विनोद कुमार सिंह, संगठन मंत्री संजय सिंह, एवं अखिल झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ लोहरदगा की और से धन्यवाद दिया गया।