मोबाइल से संचालित उपकरण को सभी ने सराहा

पाकुड़ । अभियंता दिवस के अवसर पर पाकुर पॉलिटेक्निक में बुधवार को भारत रत्न सर मोक्षगुंडम विश्वेश्वरैया जयंती मनाया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में जिला शिक्षा पदाधिकारी श्रीमती रजनी देवी एवं विद्यालय के प्राचार्य , प्रशासनिक प्रमुख निखिल चंद्र आदि द्वारा भारत रत्न सर मोक्षगुंडम विश्वेश्वरैया के तस्वीर पर पुष्पांजलि अर्पित की एवं दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। विद्यालय की ओर से पुष्पगुच्छ एवं मोमेंटो देकर उन्हें जिला शिक्षा पदाधिकारी का सम्मानित किया गया । कार्यक्रम में विद्यालय के प्राचार्य एवं जिला शिक्षा पदाधिकारी ने अपने संक्षिप्त संबोधन में कहा कि विश्वेश्वर्या जी को अपने आविष्कार से उन्हें भारत रत्न से सम्मानित किया गया। हम उनकी जयंती को अभियंता दिवस के रुप में मनाते है । श्रीमती रजनी देवी ने बताया कि कोई भी छात्र अपने को कम ना आंके। अपनी पढ़ाई व्यवस्थित और अनुशासन में रहकर करें तभी हम उन्नत शिखर पर पहुंच सकते हैं। आपकी मेहनत कभी बेकार नहीं जाएगी ,अतः आप अपना अध्यापन कार्य पूरी लगन निष्ठा मेहनत और ईमानदारी से करें तो आप अपनी सफलता अपनी मंजिल जरूर प्राप्त करेंगे । उन्होंने विद्यालय की प्रशंसा करते हुए कहा कि पाकुड़ पॉलिटेक्निक के छात्र आज देश के कई स्थानों पर अपनी सेवा दे रहे हैं । यह सब अच्छी मेहनत और उनकी सफलता पर ही निर्भर है। आप भी ऐसा कुछ करे की पाकुड़ का नाम रोशन हो सके। इस अवसर पर पॉलिटेक्निक के छात्र-छात्राओं द्वारा अपने बनाए गए कई प्रोजेक्ट का अवलोकन कराया। जिसमें बैटरी से चलने वाली साइकिल , मोबाइल से संचालित इलेक्ट्रिक उपकरण ,मोटर युक्त पवन चक्की आदि अनेक मॉडलों को सभी ने सराहा। छात्रों ने अपने-अपने मॉडल के संबंध में सभी को विस्तृत जानकारी दी । इस अवसर पर विद्यालय के प्राचार्य निदेशक प्रशासनिक प्रधान निखिल चंद्र आदि उपस्थित रहे।