राजमहल/साहिबगज| प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत भैसमारी, हल्दी टोला ,कटघर, मठतल्ला,नागेश्वर बाग,रामपुरा,सिमलडाव,खैरबन्नी,दरला , सहित अन्य जगहों पर कर्मा महापर्व का शनिवार को समापन किया गया। कुंवारी कर्मवतीयो द्वारा बताया कि यह पर्व प्रत्येक वर्ष भादों माह के पांच दिनों का नया चांद पर पर्व का शुभारंभ किया गया था। इस पर्व के माध्यम से भाई कि लंम्बी उम्र कि कामना किया जाता है। प्रारम्भ में पांच प्रकार के अनाज को टोकरी पर बोया जाता है और प्रति दिन सुबह शाम को अखाड़ा बना कर बिज में पानी देकर जगाने का जागरण गीत,नृत्य किया जाता है।और भादो माह के एकादशी पर कर्ममेतीयो के द्वारा निर्जला उपवास रह कर रात्रि में कर्म डाल एवं झाड़ पुजा किया गया साथ ही गांव के बुजुर्गो व्यक्ति के द्वारा कर्म धर्म की कहानी बतलाया गया वहीं दुसरे दिन सुबह जावा डाली एवं जावा टुपा का विसर्जन नदी या तालाब में किया गया। इस मौके कुंवारी कर्मेतीयो पल्लवी कुमारी,रंजु कुमारी,मौसम कुमारी, प्रिति कुमारी,खुशी कुमारी,निलम कुमारी,करिश्मा कुमारी,दिपीका कुमारी,रच्चना कुमारी, लक्ष्मी कुमारी,प्रिया कुमारी, सहित अन्य ग्रामीणों उपस्थित थे।