गिरिडीह । श्याम सेवा मंडल की और से शुक्रवार देर रात से गिरिडीह शहर के कुटिया गली में श्री श्याम प्रभु के 41 वे जन्मोत्सव के मौके पर 24 घंटे का अखंड पाठ का आयोजन किया गया. कुटिया गली में आयोजित अखंड पाठ को लेकर आयोजनस्थल में जहा भक्तिरस के गंगा में भक्तो ने खूब डुबकी लगाई. वही कोरोना नियमों का पालन करते हुए श्याम भक्त मंडल की और से पूजा अर्चना किया गया. सीमित भक्तो के बीच आयोजन किया गया. इस दौरान श्याम प्रभु के साथ भगवान शिव और संकट मोचन हनुमान का भव्य दरबार सजाया गया था.

आयोजन स्थल में भक्त मंडल के सदस्यों द्वारा पुजारी के वैदिक मंत्रोच्चार के बीच श्याम प्रभु का अखंड ज्योत जलाया गया. जिसमे भक्तों ने सपरिवार शामिल हो कर अखंड ज्योत में आहुति प्रदान किया. और परिवार के सुख समृद्धि के साथ निरोगिकाया की कामना करते हुए श्याम प्रभु समेत तीनों देवी देवताओं का आह्वान किया. कमोबेश, आस्था और भक्ति की गंगा में भक्तो ने खूब डुबकी लगाया. मौके पर बाहर से आए भजन गायकों द्वारा भक्तो को झुमाने वाले कई भजन पेश किए गए. कर्णप्रिय भजनों पर भक्त झूमते हुए नजर आए. इस दौरान गायक द्वारा जब बाबा जिसने तेरा नाम पुकारा है तूने उसका जीवन को दोनो हाथो से संवारा है जैसे कई भजनों पर श्याम भक्त झूमते हुए नजर आए. महिलाओं से लेकर युवाओं में श्याम बाबा के वार्षिक जन्मोत्सव पर उत्साह रहा. देर शाम सुरु हुआ वार्षिक महोत्सव का समापन शनिवार की सुबह भक्तो के बीच प्रसाद वितरण कर किया गया. इधर आयोजन को सफल बनाने में भक्त मंडल के सदस्यों ने महत्पूर्ण भूमिका निभाई.