चाईबासा । भाई-बहन के पर्व करमा के मौके पर करम डाल लेकर लौटने के दौरान रोरो नदी में डूब गए युवक टिंकू कोया का शव पूरी रात की तलाश के बाद शनिवार सुबह करीब 6 बजे मुक्तिधाम के पास नदी के दूसरे छोर से बरामद किया गया. नदी गये कुछ लोगों ने पानी में शव को तैरते हुए देखा, तो परिवार के लोगों को जानकारी मिली. पर्व के दिन ऐसी दुखद घटना से परिवार सहित पूरे मोहल्ले में मातम पसर गया है.

टिंकू कोया के बड़े भाई बुधराम कोया ने बताया कि शुक्रवार को बरकंदाजटोली अखाड़ा के लोग करम डाल लाने के लिए नदी के उस
पार गये हुए थे। लौटने के दौरान सभी लोग आगे निकल गए, लेकिन छोटा भाई टिंकू पीछे ही रह गया और नदी के पानी में डूब गया. डूबने की सूचना मिलते ही खोजबीन शुरू की गई. मुक्तिधाम से लेकर चिरू तक पूरी रात नदी में खोजबीन होती रही, लेकिन टिंकू का कोई पता नहीं चल सका. सुबह करीब 6 बजे मुक्तिधाम के पास नदी के दूसरे छोर से शव बरामद किया गया. शव बरामद होने के बाद पुलिस को सूचना दी गई. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा है.