लोहरदगा । झारखण्ड विधानसभा की प्राक्कलन समिति के लोहरदगा जिला भ्रमण का आज पहला दिन रहा। समिति के सभापति दीपक बिरुआ की अध्यक्षता में विभिन्न विभागों के कार्यों की समीक्षा की गई।

पथ प्रमण्डल, लोहरदगा

समिति द्वारा पथ प्रमण्डल, लोहरदगा के द्वारा संचालित योजनाओं की समीक्षा की गई। इसमें कार्यपालक अभियंता, पथ प्रमण्डल, लोहरदगा द्वारा बताया गया कि वर्तमान में चार पथ निर्माण और चार पुल निर्माण का कार्य जारी है। समिति द्वारा लोहरदगा-किस्को मोड़-रिचुघुटा पथ का निर्माण कार्य इतने वर्षों बाद भी लंबित होने पर रोष व्यक्त किया गया और उक्त पथ का निर्माण कार्य 30 नवंबर 2021 तक पूर्ण किये जाने का निदेश दिया गया। साथ ही इस कार्य में गुणवत्ता और समय का पालन करने का निदेश दिया गया। साथ ही कहा गया कि उक्त पथ का निर्माण भौगोलिक व सामाजिक दृष्टिकोण से बहुत ही महत्वपूर्ण है। इस पथ का निर्माण अतिआवश्यक है ताकि लोगों को मुख्यधारा से जोड़ा जा सके। समिति द्वारा पथ प्रमण्डल के विभिन्न पुल निर्माण संबंधित योजनाओं की भी समीक्षा की गई और पुल निर्माण में गुणवत्ता व निर्धारित समयावधि का पालन करने का भी निर्देश दिया गया।

विशेष प्रमण्डल

समिति द्वारा ग्रामीण कार्य विशेष प्रमण्डल के द्वारा किये जा रहे विभिन्न निर्माण कार्यों की समीक्षा की गई। सेन्हा में कोयल नदी पर पुल निर्माण और मन्हो-भक्सो पथ में पुल निर्माण का कार्य मार्च 2022 तक पूर्ण करने, निर्माण कार्य में गुणवत्ता मानकों पालन करने का निर्देश दिया गया।

ग्रामीण कार्य प्रमण्डल

ग्रामीण कार्य प्रमण्डल, लोहरदगा द्वारा किये जा रहे विभिन्न निर्माण कार्यों में धीमी प्रगति को लेकर रोष व्यक्त किया गया और एक सप्ताह में सभी योजनाओं के कार्य प्रगति की वस्तुस्थिति स्पष्ट करते हुए प्रतिवेदन देने का निदेश दिया गया। इसके लिए उप विकास आयुक्त को एक जांच सदस्यीय समिति गठित करने का भी निर्देश दिया गया।

15वें वित्त आयोग की राशि खर्च करें

समिति द्वारा वर्ष 2020-21 और 2021-22 में पंचायती राज के पंचायत समिति और ग्राम पंचायत की योजनाओं में 15वें वित्त की राशि खर्च नहीं होने पर रोष व्यक्त किया गया और उप विकास आयुक्त को सभी प्रखण्ड विकास पदाधिकारियों से स्पष्टीकरण पूछे जाने का निर्देश दिया गया। साथ ही कहा गया कि अगर स्पष्टीकरण असंतोषजनक पाया जाता है तो समिति को सूचित करें। इसके अतिरिक्त राशि को भी योजनाओं में खर्च किये जाने का निर्देश दिया गया।

भवन प्रमंडल

कार्यपालक अभियंता, भवन प्रमण्डल द्वारा सेन्हा और कुडू में निर्माणाधीन तहसील-कचहरी भवन की जानकारी दी गई। साथ ही विभिन्न विद्यालयों में अतिरिक्त कमरा निर्माण कार्य की जानकारी दी गई। समिति द्वारा निर्माण कार्यों को निर्धारित समय और गुणवत्ता मानकों के अनुरूप पूर्ण करने का निर्देश दिया गया। पूर्व से पूर्ण तहसील-कचहरी भवनों को हैण्डओवर करने की कार्रवाई किये जाने का भी निर्देश दिया गया।

पेयजल एवं स्वच्छता प्रमण्डल

समिति द्वारा पेयजल एवं स्वच्छता की योजनाओं को पूर्ण करने का निर्देश दिया गया। एमवीएस मद की राशि खर्च नहीं किये जाने पर रोष व्यक्त किया गया और स्वीकृत चापाकलों का अधिष्ठापन पूर्ण किये जाने का निर्देश दिया गया।

लघु सिंचाई

लघु सिंचाई प्रमण्डल, लोहरदगा को पूर्व के वर्षों में कैबिनेट से स्वीकृत डहरबाटी सिंचाई योजना की वर्तमान स्थिति स्पष्ट करते हुए प्रतिवेदन समिति के समक्ष प्रस्तुत किये जाने का निर्देश दिया गया। साथ ही मन्हो में लिफ्ट इरीगेशन की योजना मार्च 2022 और डोकानाला चेकडैम की योजना दिसंबर 2021 तक पूर्ण करते हुए प्रतिवेदन देने का निर्देश दिया गया।

खनन

खनन पदाधिकारी को जिला में कैटेगरी-2 बालू घाटों की निलामी के लिए सरकार को पत्र लिखे जाने का निर्देश दिया गया। साथ ही कैटेगरी-1 से ग्राम पंचायत को प्राप्त हुए राजस्व, डीएमएफटी मद में प्राप्त कोष व खर्च का ब्यौरा, अवैध खनन पर कार्रवाई (एफआइआर, राजस्व वसूल आदि) का ब्यौरा प्रतिवेदन के रूप में समिति के समक्ष प्रस्तुत किये जाने का निदेश दिया गया।

पर्यटन

जिला स्तरीय पर्यटन संवर्द्धन समिति की बैठक, पर्यटन विकास के लिए जिला को प्राप्त कोष व उसका उपयोग का ब्यौरा प्रतिवेदन के रूप में दिये जाने का निदेश दिया गया।

स्वास्थ्य

स्वास्थ्य विभाग को कोविड की संभावित तीसरी लहर से बचाव व रोकथाम हेतु पूर्व तैयारी का निर्देश दिया गया। इस बिंदु पर डाॅ शंभूनाथ चौधरी द्वारा जानकारी दी गई कि जिले मे 79 गैस पाईपलाइन सिस्टम युक्त बेड, 12 एसएनसीयू बेड, 24 वेंटीलेटर जिसमें 12 इंस्टाॅल्ड हैं, डीआरडीओ की मदद से पीएसयू प्लांट लगाये जाने की तैयारी, 05 आइसीयू, प्रशिक्षित चिकित्सक आदि की तैयारी है। कोविड से बचाव हेतु अब तक लोहरदगा जिला में दिनांक 19.09.2021 तक 1 लाख 53 हजार 127 लोगों को फर्स्ट डोज और 42 हजार 586 लोगों को सेकेंड डोज दे दी गई है। जिला में पांच सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हैं जहां सभी जगह डाॅक्टर उपलब्ध हैं। सदर अस्पताल में कुल 22 डाॅक्टर हैं।

शिक्षा विभाग

समिति द्वारा विभाग के विभिन्न भवनों की स्थिति से अवगत कराने का निर्देश दिया गया। उच्च तकनीकी विभागीय सचिव को समिति द्वारा बरही स्थित महिला कॉलेज में पठन-प्रारंभ करने के लिए आवश्यक कारवाई करने हेतु पत्र लिखे जाने का निदेश दिया गया।

नगर परिषद

नगर पर्षद कार्ययपालक पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि पीएम आवास 4717 लक्ष्य है। समिति द्वारा निदेश दिया गया कि 14 वें वित्त आयोग का पैसा बहुत खर्च नहीं हुआ है, इस वित्तीय वर्ष में पूर्ण करें। पीसीसी का कार्य पूर्ण करें वार्ड 11,18,19,21 में। सोलर एनर्जी वेस्ट प्लांट, सभी नवम्बर तक पूर्ण करें। ओल्ड वाटर ट्रीटमेंट प्लांट में भुगतान पूर्ण करें। पावरगंज में नाली निर्माण अब एनएच करेंगे। वार्ड 12 में rcc पथ और नाली जल्दी पूर्ण करें।NULM में सेल्फ हेल्फ़ ग्रुप 300 से अधिक है। सभी को लक्ष्य दे दिया गया है। शहर में दो शेल्टर होम हैं। सीएम श्रमिक योजना में 492 में 324 को जॉब कार्ड देकर काम दे दिया गया है। 483 लोगों को 10-10 हजार रुपये ऋण दिया गया है। अभी दूसरी बार ऋण देने का कार्य 18 लोगों के बीच किया गया है। 15वें वित्त के आबद्ध और अनाबद्ध राशि काफी बची है जिसे खर्च करें। जो फंड बचा हुआ है उसमें योजना लेकर खर्च करें। टेंडर फाइनल कर कार्य शुरू करें।

आपूर्ति

जिला आपूर्ति पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि जिले में 401 पीडीएस में 378 ऑनलाइन हैं। 23 नेटवर्क क्षेत्र में नहीं हैं जहां ऑफ़लाइन राशन दिया जाता है। झारखंड खाद्य सुरक्षा योजना के तहत 20,998 लक्ष्य था जिसमे 32,515 लोगों को जोड़ा गया है। 54702 अंत्योदय और
373781 पीएच कार्ड हैं। 2 लाख क्विंटल लक्ष्य था जिसमे सभी को भुगतान कर दिया गया। समिति ने निदेश दिया एसडीओ जांच करें कि धान अधिप्राप्ति में 100 क्विंटल से ज्यादा धान कितने लोगों ने दिया है। केंद्र और राज्य सरकार द्वारा दिया जा रहा राशन की भी मोनिटरिंग करें। चीनी व किरासन के लिए लाभुक से ली जा रही राशि का जांच कर लें पीडीएस दुकानों में।

कृषि

जिला कृषि पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि खरीफ में 50 % अनुदान पर 903 क्विंटल बांट दिया गया है। समिति द्वारा सहकारिता विभाग के कोल्ड रूम का निर्माण कार्य भी जांच सदस्यीय टीम द्वारा देख लेने का निर्देश दिया गया।

जिला समाज कल्याण

जिला समाज कल्याण पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि सेविका-सहायिका का मानदेय जून तक दे दिया गया है। समिति द्वारा जुलाई से बाकी मानदेय की भी मांग विभागीय सचिव से करने का निदेश दिया गया। साथ ही सीएम सुकन्या योजना, सीएम कन्यादान योजना, पीएम मातृ वंदना योजना का लक्ष्य पूर्ण करने का निदेश दिया गया।

उत्पाद

उत्पाद अधीक्षक द्वारा बताया गया कि अगस्त तक 23.32% राजस्व की वसूली हुई है। यहां उत्पाद की 16 दुकानें हैं। समिति द्वारा उत्पाद अधीक्षक को मार्च 2022 तक लक्ष्य पूर्ण कर लिए जाने का निदेश दिया गया।

वन पर्यावरण

वन प्रमंडल पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि 150 एकड़ में 70 हजार पौधे लगाए गए हैं। वहीं सड़क किनारे 22 किमी में 2200 पौधे लगाए गए हैं। जिले में 07 चेक डैम हैं। समिति द्वारा पौधों को बचाये जाने का निदेश दिया गया।

प्रदूषण नियंत्रण

क्षेत्रीय पदाधिकारी, प्रदुषण नियंत्रण बोर्ड रांची को बॉक्साइट ढुलाई व डस्ट के नियंत्रण हेतु किये जा रहे कार्य का प्रतिवेदन देने का निर्देश दिया गया। साथ ही लोडिंग, अनलोडिंग पॉइंट पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया।

सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा को स्वामी विवेकानंद निःशक्त योजना वेकेंसी पूर्ण करने का निर्देश दिया गया।

बैठक में समिति के सदस्य लंबोदर महतो, उपायुक्त दिलीप कुमार टोप्पो, उप विकास आयुक्त अखौरी शशांक सिन्हा, वन प्रमण्डल पदाधिकारी अरविंद कुमार समेत संबंधित विभागों के पदाधिकारीगण व कार्ययपालक अभियंता उपस्थित थे।