लोहरदगा lभारतीय जनता पार्टी के बोकारो विधानसभा माननीय विधायक सह विरोधी दल के मुख्य सचेतक विरंची नारायण राज्य भ्रमण के दौरान लोहरदगा आगमन हुआ। साथ ही संगठन के प्रदेश सहप्रशिक्षण प्रमुख सुमन कुमार उपस्थित रहे। जिसमें भारतीय जनता पार्टी द्वारा भारत के जन्मदिन के अवसर पर निर्धारित17 सितंबर से 7 अक्टूबर तक सेवा ही समर्पण कार्यक्रम की सही से निष्पादन को लेकर एवं वर्तमान झारखंड सरकार की नीति एवं कार्यशैली को लेकर प्रेस कांफ्रेंस के माध्यम से संबोधन किया। साथ ही मौके पर भाजपा के पदाधिकारियों से की मुलाकात।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मुख्य सचेतक बिरंचि नारायण जी ने कहा कि सेवा ही संगठन कार्यक्रम मोदी जी के जन्मदिन के अवसर पर मना रही है। मोदी जी के राज्य और केन्द्र के नेतृत्व 20 वर्ष सुशासन के पूरे हुए हैं। इसके निमित्त 20 दिनों तक लगातार विभिन्न प्रकार के क्षेत्रों में भाजपा एवं मोर्चा के द्वारा सेवा कार्यक्रम स्वास्थ्य वृक्षारोपण पोस्ट कार्ड के माध्यम से शुभकामनाएं संदेश, किसानों एवं शहीदों का सम्मान, सीमा पर तैनात सेना का सम्मान कार्यक्रम आयोजित किया गया है। इस कार्यक्रम को लेकर जिले के गांव बस्ती बूथ स्तर कार्यक्रम क्रियान्वयन करगें।

साथ ही मौके पर वर्तमान कांग्रेस और जेएमएम कार्य एवं निती पर प्रहार किया और कहा कि राज्य सरकार पूरे प्रदेश को नीतियों से निराश की है एवं अपने वायदे को भूलकर ऐसे ऐसे नीतियों का निर्माण कर रही है। जिससे कि युवा को रोजगार से वंचित कर रही है। राज्य सरकार की नीति विशेष समुदाय को खुश करने के लिए नमाज नीति को बढ़ावा दे रही है हम लोग सभी भाषाओं का सम्मान करते हैं। परंतु राज्य के अंदर शामिल भाषाओं को अनदेखी की गई है विशेष रूप मुस्लिम समुदाय को खुश करने के लिए उर्दू को प्राथमिकता से बढ़ावा देने का कार्य कर रही है जिससे राज्य के बहुसंख्यक हिंदू समाज को अनदेखी कर रही है।पर भाजपा ऐसा होने नहीं देगी। यह उनकी वोट बैंक की राजनीति का हिस्सा है। सरकार ने स्थानीय नीति को 3 महीने के अंदर निर्धारण करने की बात कही थी। सरकार 1932 के आधार पर नियोजन नीति निर्माण करेंगे पर आजतक नहीं किया । पूरवर्ती सरकार द्वारा बनाए गए 1985 के आधार पर बनाई गई नीति को बिना समिक्षा के रद्द कर दी। परंतु आज तक उसका फिर से निर्माण नहीं कर पाई है। जिससे कोई भी नियोजन राज्य के युवाओं को प्राप्त नहीं हो पा रही है। राज्य के विकास में बहुत बड़ी बाधा है। राज सरकार की राज्य कोष खाली होने की बात करती है परंतु 2 वर्ष पूरे हो चुके हैं राज्य सरकार बालू घाट की आवंटन नहीं कर पाई है। राज्य में खदानों मैं भरपूर भ्रष्टाचार भरी हुई है। बालू घाट के आज तक आवंटन नहीं हुआ। उसमें बिचौलिए के माध्यम से सरकार बालू की चोरी करवा रही है और राज्य की संपदा को देश से बाहर बांग्लादेश जैसे देशों में भी भेजने का कार्य चोरी छुपे किया जा रहा है।बालू घाटों के जेएमएम एवं कांग्रेस के के नाम से नामांकित कर दिया गया है। आम जनता जब अपने घरों के निर्माण के लिए बालू ले जाए तो कुछ गरीब के ट्रैक्टर को थानों में सढ़ा दिया जा रहा है।
राज्य में इन्वेस्टमेंट की बात सरकार करती है। परंतु राज्य की सुरक्षा व्यवस्था इस प्रकार से चरमरा गई है कि कोई भी व्यापारी अपने आप को स्थापित करने से पहले डर रही है राज्य में न्यायालय जज भी सुरक्षित नहीं है व्यवसायियों का किडनैपिंग लगातार बढ़ा है। अपराधिक गतिविधियां बढ़ गई है राज्य सरकार 2 वर्ष पूर्ण करने को है परंतु एक भी पुल पुलिया, सड़क का शिलान्यास नहीं करा पाई है इन परिस्थितियों में हम कैसे उम्मीद कर सकते हैं कि व्यापारी आपके प्रदेश में स्थापित होने पर विचार कर सकते हैं। सरकार के अपनी पाॅकेट भरने का रही है राज्य भ्रमण के दौरान आम जनता से पता चलता है कि किडनी निराशा है पर हर वर्ग आज उपेक्षित महसूस कर रहा है। इसलिए आने वाले दिसंबर के शीतकालीन सत्र में भाजपा भरपूर तरीके से जनता की समस्याओं को रखने का काम करेगी।

प्रेस कांफ्रेंस के उपरांत विधायक सह विरोधी दल के मुख्य सचेतक विरंची नारायण एवं सुमन कुमार प्रशिक्षण सहप्रमुख के द्वारा किया गया भाजपा कार्यकाल में वृक्षारोपण कार्यक्रम का शुभारंभ की गई । वृक्षारोपण के दौरान विधायक बिरंचि नारायण ने कहा कि वृक्षारोपण अति महत्वपूर्ण सेवा कार्य है यह समाज को प्रेरित करती है साथ ही हमारे वातावरण को शुद्ध एवं स्वच्छ रखने में महत्वपूर्ण भूमिका होती है वृक्षारोपण कार्य अपने जीवन काल में जरूर करनी चाहिए जिससे कि हमारे आने वाले भविष्य को सुनहरा एवं स्वच्छ सुंदर वातावरण प्राप्त हो सके।

मौके पर उपस्थित भाजपा जिलाध्यक्ष मनीर उरांव श्री चंद प्रजापति पूर्व माटी कला बोर्ड अध्यक्ष पूर्व जिला अध्यक्ष ब्रजबिहारी प्रसाद, राजकिशोर महतो, राकेश प्रसाद, राजमोहन राम, नवीन कुमार टिंकू, हर्षनाथ महतो, सामेला भगत, सूरजमोहन साहू, राजकुमार वर्मा, बालकृष्णा सिंह, अनिल उरांव, भारती सिन्हा, अजय कुमार पंकज, पशुपति नाथ पारस, सुरेश बैठा, सजल कुमार,भरत साहू,देवाशीष कार, ओम गुप्ता, दुखहरण साहू, अमरेश भारती, सूरज दसोंधी, जितेन्द्र महतो, कलावती देवी, बाल्मीकि कुमार, संजय बर्मन, मिथुन तमेड़ा,शंकर प्रजापति, प्रदीप कुमार सहित अन्य लोग थे।