साहिबगंज । झारखंड बिहार एकीकृत में पिछड़ी जातियों को 27% आरक्षण मिलता था झारखंड अलग राज्य होने पर पहला सरकार बाबूलाल मरांडी के नेतृत्व में भाजपा की सरकार बनी और झारखंड में पिछड़ी जातियों की 27 प्रतिशत आरक्षण को घटाकर 14 प्रतिशत कर दिया गया।यह पिछड़े जातियों के साथ धोखा था।ये बाते कांग्रेस ओबीसी विभाग के जिलाध्यक्ष अजय कुमार यादव ने साहिबगंज स्टेशन चौक पर एक दिवसीय धरना को सम्बोधित करते हुए कहा।उन्होंने कहा कि पिछली सरकार में रघुवर दास पिछड़ी जाति से रहने के बाद भी लगातार पांच साल सरकार चलाने के बावजूद पिछड़ी जातियों को वर्षों पुरानी मांग 27 प्रतिशत आरक्षण को लागू नहीं किया रघुवर सरकार में भी झारखंड के पिछड़ी जातियों को धोखा देने का काम किया।पिछड़ी जातियों का नाराजगी का कारण ही था की रघुवर दास की सरकार को बुरी तरह हार का सामना करना पड़ा।वही कांग्रेस ओबीसी विभाग के प्रदेश महासचिव अश्वनी कुमार आनंद ने कहा कि झारखंड बनने के बाद सबसे ज्यादा शासन भाजपा ने की लेकिन पिछड़ों को छला एवं धोखा दिया गया।श्री आनंद ने कहा कि चुनाव के समय कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में कहा कि अगर झारखंड में गठबंधन की सरकार बनी पिछड़ी जातियों का वर्षों पुरानी मांग 14 प्रतिशत से बढ़ाकर 27 प्रतिशत किया जाएगा।कांग्रेस पार्टी पिछड़ी जातियों को 27 प्रतिशत आरक्षण मिले इसका हमेशा समर्थन की है और पिछड़ा जाति समाज के हक अधिकार का समर्थन किया है।
अभी झारखंड मुक्ति मोर्चा एवं कांग्रेस की गठबंधन की सरकार से झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी ओबीसी विभाग पुरजोर मांग करती है पिछड़ी जातियों का
27 प्रतिशत आरक्षण विधानसभा से पारित कर अविलंब लागू किया जाए।धरना में कांग्रेस जिलाध्यक्ष अनुकूल चंद्र मिश्रा,उपाध्यक्ष मो कलीमुद्दीन,प्रदेश डेलीगेट सदस्य मुरसाद अली,कांग्रेस ओबीसी विभाग के जिला अध्यक्ष अजय कुमार यादव,प्रदेश महासचिव अश्वनी कुमार आनंद,कांग्रेस के युवा नेता आदित्य कुमार यादव,नित्यानंद गुप्ता,कांग्रेस स्वास्थ्य विभाग के प्रदेश सचिव संतोष झा,कांग्रेस स्वास्थ्य विभाग के जिला अध्यक्ष मुन्ना कुमार यादब,बोरियों कांग्रेस प्रखंड अध्यक्ष राजेश सिंह,सुनील पासवान,महिला कांग्रेस के प्रदेश सचिव पूनम किरण चौरसिया,रमजान अली,कांग्रेस सेवा दल के अध्यक्ष मो अल्ताफ आलम,विनोद मंडल,रवि शंकर यादव,अशोक यादव,विनोद सिंह,पंकज कुमार यादव,संजय यादव,सुनील कुमार,अमित कुमार यादव,मिठू कुमार यादव,मो नदीम अख्तर,मो अजहर,मो बारीक,नीरज कुमार,जाहिद खान,रंजीत मंडल,जमुना दास,मृत्युंजय कुमार यादव सहित सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे।