रामगढ़ ( पतरातू ) । विस्थापित प्रभावित अधिकार समिति की स्थापना दिवस को लेकर इनके कार्यकर्ताओं ने गर्मजोशी से निकाली बाइक रैली। आगामी 24 सितंबर को होने वाले स्थापना दिवस को लेकर इन की तैयारी जोरों पर है। इनके कार्यकर्ताओं के जोश सातवें आसमान पर है। समिति की अध्यक्ष खुशबू देवी की अध्यक्षता में उनके कार्यकर्ताओं के द्वारा लगातार 25 गांव के विस्थापितों से साधा जा रहा है संपर्क। वहीं दूसरी ओर झारखंड मुक्ति मोर्चा पतरातू प्रखंड के सदस्यों ने जताई अपनी नाराजगी। झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकर्ताओं इस बात पर नाराजगी जताई कि झामुमो के केंद्रीय सचिव संजीव बेदिया से बिना उनकी सहमति और अनुमति के उनका नाम और उनका फोटो विस्थापित प्रभावित अधिकार समिति के सदस्यों के द्वारा बैनर में लगाना गलत है। झामुमो का कहना है कि हमारी पार्टी किसी भी लड़ाई को लड़ने के लिए खुद सक्षम है। उक्त बातें झामुमो पतरातू प्रखंड कमेटी के सदस्यों ने भुरकुंडा कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहीं। वहीं दूसरी ओर एक बात और सामने आ रही है कि विस्थापित प्रभावित अधिकार समिति एवं विस्थापित प्रभावित मोर्चा के सदस्यों का एक दूसरे के ऊपर दोषारोपण बदस्तूर जारी है।