गुमला । कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष सह विधायक बंधु तिर्की के द्वारा दिवांगत आदिवासी महिला ऑफिसर रूपा तिर्की के खिलाफ ओच्छी राजनीतिक बयान बाजी करने व रुपा तिर्की के परिवार को सी .बी आई जाँच की माँग न करने व पेट्रोल पम्प ,नौकरी,और मुवावजा प्रलोभन देने के विरोध में बुधवार को गुमला शहर के टावर चॉक में अनुसूचित जनजाति मोर्चा गुमला जिला अध्यक्ष देवेंद्र लाल उराँव की अगुवाई में पूरे जिला में माण्डर विधायक बन्धु तिर्की ,एंव राज्य के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन का पुतला फुंका गया।
जिला अध्यक्ष देवेन्द्र लाल उराँव ने
मिडिया एंव र्कायकताओं को जानकारी देते हुए बतलाया कि रुपा तिर्की की मौत एक संदेहास्पद स्थिति में पाई गई।रुपा के परिजन एंव भाजपा
व अन्य सामाजिक संगठन द्वारा सी. बी.आई जाँच की माँग कि जा रही थी।
और इसमें हेमन्त सोरेन के सहयोगियों के संलिप्त होने की संभावना है।पूर्व मंत्री व माण्डर विधायक बंधु तिर्की द्वारा रूपा तिर्की के परिवार वालों को पेट्रोल पंप नौकरी एवं मुआवजा का प्रलोभन देकर यह कहना गलत है कि रुपा तिर्की के परिजन सीबीआई जांच की मांग ना करें,इसमें काफी दिक्कत होती है एवं लंबा समय लगता है न्यायिक जांच से ही रूपा तिर्की का मामला स्पष्ट हो सकता है।हेमन्त सोरेने से मिलकर बंधु तिर्की मामला को रफा दफा करने के पक्ष में थे।और अपने सहयोगियों को बचाने का प्रयास कर रहे थे।वर्तमान में सी .बी .आई जाँच चल रही है cbi को एक ओडियो प्राप्त हुआ जिसमें बंधु तिर्की के बात चित से मामला स्पष्ट हुआ। देवेन्द्र उराँव ने यह माँग रखी कि सी. बी. आई एंव न्यायालय ,केस को दबाने एवं रूपा तिर्की के परिवार को प्रलोभन देने के आरोप में कड़ी से कड़ी कार्रवाई करें।

बन्धु तिर्की एंव हेमन्त सोरेन जल जंगल जमीन आदिवासियों के हितेषी होने के बाद कर सत्ता में आई है और
आदिवासियों को न्याय दिलाने के नाम पर सौदेबाजी व ढोंग रचती है करने लगी है इस गठबंधन सरकार को अब उखाड़ फेंकने की आवश्यकता है। साथ साथ गठबंधन सरकार जातिवाद का खेल पूरे झारखंड में खेल रही है कभी मंदिर मस्जिद तो कभी लातेहार में मुसलमान डीसी सीओ एवं मुसलमानों के वोट से सरकार बनना इस प्रकार की बात कहना जिला के अधिकारियों एवं नेताओं की घटिया सोच को प्रदर्शित करता है

महांमत्री रामवतार भगत ने बताया कि
रुपा तिर्की के साथ बंधु न्याय कराने का ढोंग कर अन्याय कर रहे हैं।पूरे आदिवासी समुदाय को ऐसे नेताओं को जवाब देना चाहिए।
सोनामनी उराँव ने कहा कि जब से यह सरकार आई सबसे ज्यादा आदिवासी महिलाओं महिलाओं के साथ शोषण अत्याचार और बलात्कार हुआ है। सरकार से शासन को चलाया नहीं जा रहा है सरकार को इस्तीफा दे देना चाहिए बीजेपी के लोग सत्ता संभालने के लिए तैयार है
मौके पर जिला अध्यक्ष देवेन्द्र लाल उराँव ,रामवतार भगत जिला महामंत्री सत्यनारायण पटेल प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य मांगु उराँव, अनिता मिंज , छोटेलाल भगत राजेश सिहं शैल मिश्रा दिनेश सिंह सुशील नन्द सोनामनी उराँव ज्योति कुमारी गुड्डी नन्दा शंभु साहु ,सोमनाथ भगत,सचिन उराँव भरत उराँव सहित अन्य कार्यकर्ता मौजुद थे।