रामगढ़ ( पतरातू ) | पतरातू प्रखंड के हेसला पंचायत सचिवालय में मुखिया संघ की बैठक हुई जिसमे मुखिया संघ ने पालू मुखिया गंगाधर महतो के खिलाफ लगाए गए आरोप को गलत बताया। तथा मुखिया संघ के सदस्यों ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि गंगाधर महतो एक पंचायत के मुखिया के अलावे पतरातू प्रखंड मुखिया संघ के सचिव भी हैं। और मुखिया पंचायती राज अधिनियम के तहत लोक सेवक होते हैं जिस प्रकार सरकारी कर्मी लोकसेवक होते हैं वैसे ही मुखिया भी लोकसेवक होते हैं।और कोई भी सरकारी कर्मी पद का दुरुपयोग करते हैं तो लोक सेवक होने के नाते मुखिया का भी अधिकार बनता है की उसका विरोध करे।उस रात स्वास्थ्य केंद्र में डॉक्टर और अन्य कर्मी नदारद थे इस लचर व्यवस्था का मुखिया गंगाधर महतो ने विरोध जताया। जिसका अस्पताल कर्मियों ने आरोप लगाते हुए झूठा केस दर्ज किया। जिसका प्रखंड पतरातू मुखिया संघ कड़ी निंदा करता है।तथा मुखिया संघ ने प्रशासन से निष्पक्ष जांच तथा अस्पताल में अनुपस्थित रहने वाले अधिकारियों का उच्च स्तरीय जांच की मांग किया।