पाकुड़ ( महेशपुर ) । थाना प्रभारी सुनील कुमार रवि की सूझबूझ एवं सक्रियता की वजह से मवेशी तस्करी गिरोह का न केवल भंडाफोड़ हुआ है बल्कि तस्करी के लिए ले जाया जा रहा ग्यारह गायें एवं दो बछड़ा भी जप्त किया गया।पुलिस छापेमारी के दौरान मवेशियों से लदा वाहन डब्ल्यूबी 61ए 5053 को भी जप्त किया गया है ।पशु तश्करी के इस मामले में मोजिम अंसारी एवं सलीम सेख को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।जप्त मवेशियों को थाना परिसर में रखा गया है।प्राप्त जानकारी के मुताबिक थाना प्रभारी महेशपुर सुनील कुमार रवि को यह गुप्त सूचना मिली थी कि हिरणपुर से महेशपुर थाना क्षेत्र के रास्ते वाहन के जरिये मवेश पश्चिम बंगाल ले जाया जा रहा है।इसी सूचना पर थाना प्रभारी दल बल के साथ टीम गठित कर छापेमारी के लिए रवाना हुए।पीर पहाड़ के निकट एक वाहन को आता देख पुलिस ने रुकने का इशारा किया तो चालक गाड़ी लेकर भागने लगा।थाना प्रभारी एवं जवानों ने पिछा कर वाहन सहित दो लोगो को धारदबोचा।वाहन की जांच हुई तो उसपर गाय एवं बछड़े लदा पाये गये।मिली जानकारी के मुताबिक जिन मवेशियों को महेशपुर थाने की पुलिस ने जप्त किया है ।,इन्हें पश्चिम बंगाल के हयातनगर के बड़े पशु माफिया हैदर के पास ले जाया जा रहा था।सूत्रों के मुताबिक हैदर वर्षो से मवेशियों की तस्करी पुलिस एवं सफेद पोशों नेताओं का संरक्षण प्राप्त कर किया करता है।देवघर गोड्डा एवं पाकुड से मवेशियों की खरीददारी कर उसे पश्चिम बंगाल के रास्ते बंग्लादेश भेजकर पशु तस्कर हैदर लाखो की कमाई किया करता है।