पेशरार/लोहरदगा l पेशरार प्रखंड के रोरद पंचायत में आजसू पार्टी की बैठक हुई जिसमें पंचायत प्रभारी के रूप में पारस नाथ उरांव और अरविंद भगत, पंचायत अध्यक्ष लालू उरांव, कार्यकारी अध्यक्ष- सरबजीत भगत, उपाध्यक्ष- रामेश्वर खेरवार, अनिल उरांव, कमलदीप भगत, घनश्याम महतो, रामलाल उरांव, संगठन सचिव- छोटू उरांव, कोषाध्यक्ष- अनूप उरांव, सचिव- सुमन उरांव, सह सचिव- अशोक उरांव, राजेंद्र उरांव, गोपाल उरांव, मैनेजर किसान और अजय साहू बनाए गए। इसके अतिरिक्त सिकंदर महली, सावना उरांव, वीरेंद्र उरांव, चेतराम उरांव, वीरेंद्र असुर, पतरस असुर, बैजनाथ नगसिया, बंधन नगसिया, लवनु नगसिया, धनेश नगसिया, जगरनाथ नगसिया, कर्मा नगसिया, विश्वनाथ भगत, और सुमन नगसिया को पंचायत कार्यकारिणी समिति में रखा गया। इस अवसर पर विशेष रुप से आजसू पार्टी के केंद्रीय उपाध्यक्ष सह पूर्व विधायक कमल किशोर भगत, पेशरार प्रखंड प्रभारी संजू सिंह, अंजू देवी, अनीता साहू, राम नारायण प्रसाद, रामसेवक सिंह आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे। बैठक में उपस्थित भारी संख्या में आजसू समर्थकों को संबोधित करते हुए पूर्व विधायक कमल किशोर भगत में कहा कि पेशरार प्रखंड को गंगटोक की तरह विकसित करना और संवारना मेरी सपना रही है। और इसके लिए मैंने विजन बनाकर इस क्षेत्र का विकास के लिए प्रयास भी किया। इसके लिए सबसे पहली आवश्यकता सड़क मार्ग से इस क्षेत्र को जोड़ना था और मेरा ही प्रयास है कि आज लोहरदगा शहर से पेशरार सड़क बन सका। लावा पानी जैसा सुंदर क्षेत्र को विकसित कर इसे ऐसा पर्यटक स्थल के रूप में विकसित करना मैं चाहता था कि लोग दूर-दूर से यहां भ्रमण करने के लिए आवें और यहां के लोगों को रोजगार मिले। किन्तु एक राजनीतिक षड्यंत्र के तहत विरोधी दल के लोगों ने मुझे झारखंड आंदोलन के समय का एक बहुत पुराना केस में फंसा कर जेल भिजवा दिया और विकास का काम इस क्षेत्र में रुक गया। कमल किशोर भगत ने कहा कि अगर आने वाले विधानसभा चुनाव में आपका आशीर्वाद और सहयोग मुझे पुनः मिला तो मैं वादा करता हूं कि इस क्षेत्र का विकास इस प्रकार करूंगा कि यहां घूमने के लिए दूसरे राज्य के लोग आएंगे और लोहरदगा जिला का यह पेशरार प्रखंड केवल झारखंड में ही नहीं पूरे देश में जाना जाएगा। बैठक को प्रखंड प्रभारी संजू सिंह, राम नारायण प्रसाद, अंजू देवी और अनीता साहू ने भी संबोधित किया। यह जानकारी जिला प्रवक्ता सह मीडिया प्रभारी रामचंद्र गिरि ने दी।