पाकुड़ ( हिरणपुर ) । अब तक आपने पुलिसकर्मियों को चोर, बदमाशों की धर-पकड़ करते या फिर किसी केस के सिलसिले में जांच-पड़ताल करते देखा होगा। लेकिन एक पुलिसकर्मी ऐसा भी है जो थानेदार होने के साथ-साथ एक मार्गदर्शक की भूमिका भी बखूबी निभा रहे हैं। हम बात कर रहे हैं हिरणपुर थाना प्रभारी मदन कुमार की, जो अपने व्यस्त दिनचर्या में से समय निकालकर मॉडल प्लस टू विद्यालय हिरणपुर पहुंचे। जहां उन्होंने 10वीं की छात्रों को नैतिकता का पाठ पढ़ाया। उन्होंने कहा कि आप सभी बच्चे देश का भविष्य हैं। इसलिए पढ़ाई में ध्यान देने के अलावे उन्हें अन्य गैर जरूरत की चीजों में ध्यान नहीं देना चाहिए। पढ़ लिखकर वैसा मुकाम हासिल करें जिससे परिवार ही नहीं बल्कि समाज व देश का नाम भी रौशन हो। सभी छात्र छात्राएं अपने कर्तव्य को समझते हुए स्वेच्छा व अनुशासन से उनका पालन करना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि शिकायत मिल रही है कि आपके विद्यालय के बाहर कुछ असामाजिक तत्वों का अड्डा हो रहा है। उसे रोकना पुलिस की जिम्मेदारी है। मगर वैसे लोग विद्यालय के ही कुछ छात्र के संरक्षण में विद्यालय के बाहर खड़े रहते हैं। अगर वे उनका साथ न दें तो कार्रवाई करने में पुलिस को आसानी होगी। उन्होंने छात्रों का हौसला बढ़ाते हुए ये भी कहा कि केवल किताब का ज्ञान होना ही ज्ञानी की परिभाषा नहीं है, बल्कि नैतिक ज्ञान भी छात्रों में होना जरूरी है। ताकि सही और गलत का फैसला आसानी से किया जा सके। उन्होंने पुनः विद्यालय आकर अन्य छात्र छात्राओं से भी मिलने की बात कही। साथ ही असमाजिक तत्वों को सावधान रहने को कहा। मौके पर प्रधानाध्यापक मनीष गुप्ता, शिक्षक राजकुमार भगत आदि मौजूद थे।