पाकुड़ । शुक्रवार को के के एम महाविद्यालय पाकुड़ में मनाया गया एन एस एस का 52 वाँ स्थापना दिवस 24 सितंबर 1969 को महात्मा गांधी जी के 100 वे जन्मदिन पर एनएसएस की स्थापना हुई और नॉट मी बट यू मतलब हम जो काम कर रहे हैं वह अपने लिए नहीं वह आपके लिए कर रहे हैं l इस कार्यक्रम का संचालन महिला कॉलेज
के प्रभारी प्राचार्य सुशीला हादसा के द्वारा विश्वविद्यालय कुलगीत के साथ इसकी शुरुआत हुई l एनएसएस का उद्देश्य भारत की युवा पीढ़ी की पढ़ाई लिखाई के अलावे राष्ट्र निर्माण में अपना सहयोग देना है* केके एम महाविद्यालय 4 गांव को गोद लिया है साफ-सफाई से लेकर पेड़ पौधे लगाना बच्चों को पढ़ाना इस सारे कार्य होती है एनएसएस के द्वारा मुख्य अतिथि के रुप में डॉक्टर त्रिवेणी भगत
मुख्य अतिथि का स्वागत है बड़ा ही शानदार तरीके से हुआ मांदर और नगाड़े की ताल पर लोग ताली की गड़गड़ाहट से मुख्य अतिथि डॉक्टर त्रिवेणी भगत को पुष्प अर्पित कर उनका स्वागत किया उसके बाद प्रभारी प्राचार्य डॉ शिव प्रसाद लोहरा मुख्य अतिथि के रूप में डॉक्टर त्रिवेणी भगत समेत एच ओडी बॉटनी के डॉ प्रसनजीत मुखर्जी सभी ने मिलकर दीप प्रज्वलित किया कार्यक्रम की शुरुआत की सभी ने अपने वक्तव्य को बारी-बारी से रखा है एनएसएस क्या है उसके बारे में छात्र छात्राओं को बताया गया महबूब आलम गणित B.Ed के एचओडी मनोहर कुमार संगीत शिक्षक अत्रेई सरकार B.Ed इंचार्ज डॉ अभय कुमार महिला कॉलेज कॉमर्स के अमित कुमार झा ऋषि शंकर अवस्थी केमिस्ट्री के नीलम कुमारी इस स्थापना दिवस के अवसर पर अनेकों छात्र-छात्राएं संग कॉलेज के लोग उपस्थित रहे l