चाईबासा । वर्ष 2013-14 में विभिन्न सड़कों के निर्माण और चौड़ीकरण के लिए पथ निर्माण विभाग द्वारा रैयतों से जमीन का अधिग्रहण किया गया था. सड़कों का काम पूरा भी हो गया, लेकिन रैयतों को अभी तक मुआवजा नहीं मिला है. मुआवजा भुगतान की मांग को लेकर रैयतों ने शुक्रवार को सिंहभूम की सांसद सह प्रदेश कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष गीता कोड़ा के नेतृत्व में उपायुक्त अनुन्य मित्तल से मुलाकात की.

सांसद गीता ने उपायुक्त को कहा कि रैयतों द्वारा कई बार विभाग में मुआवजा भुगतान के लिए पत्राचार किया गया है. रैयतों ने सभी कागजात भू-अर्जन विभाग में जमा कर दिया है, लेकिन उन्हें मुआवजा का भुगतान नहीं किया गया है. भगतान के नाम पर केवल रैयतों को आश्वासन दिया जा रहा है. कई रैयतों से तो राशि की अनुपलब्धता बताकर आवेदन तक नहीं लिये गये. सांसद ने उपायुक्त से कहा है कि रैयतों को भूमि अधिग्रहण का मुआवजा भुगतान करने की दिशा में समुचित कार्रवाई करें.