लोहरदगा l सेन्हा प्रखंड अंतर्गत बरही ग्राम में बिजली व्यवस्था कमाई का साधन बन गया है। हर दूसरे दिन यहां की बिजली गुल रहती है। जब लाइन मैन और अन्य बिजली मिस्त्री को फोन किया जाता है तो कभी 200 तो कभी 500 का खुले आम मांग किया जाता है। इस स्थिति में आखिर कब तक आम ग्रामीण जनता बिजली बनाने के नाम से मिस्त्री को परोसते रहेंगे।

ग्रामीण भीम महतो, गिरधारी महतो, एवं ठाकुर, शंकर ठाकुर आदि का कहना है कि शाम होते ही किसी न किसी बहाने से बिजली गुल कर दिया जाता है। और फिर दूसरे दिन इसको बनाने के नाम से कभी 100 अभी 200 रुपये का अवैध मांग किया जाता है।

बिजली बिभाग की इस तरह की मनमानी और गोरखधंधा को शीघ्र अति शीघ्र अगर बंद नही किया गया तो बिजली व्यवस्था कभी भी दुरुस्त नही रहेगी।