गुमला । असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का निबंधन निःशुल्क कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) के माध्यम से किया जाएगा: श्रम अधीक्षक |

विगत 26 अगस्त 2021 को असंगठित श्रमिकों के लिए प्रारंभ किए गए ई-श्रम सेवा पोर्टल (e-SHRAM) के अंतर्गत निबंधन कराने के विषय पर जिला सूचना भवन के सभागार में गुमला जिलांतर्गत प्रज्ञा केन्द्र संचालकों के बीच एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया।
कार्यशाला में श्रम अधीक्षक एतवारी महतो द्वारा बताया गया कि सर्वाेच्च न्यायालय द्वारा SUO MOTO-06/2020 में पारित आदेश के आलोक में श्रम एवं रोजगार मंत्रालय भारत सरकार नई दिल्ली के द्वारा e-SHRAM पोर्टल में सभी असंगठित श्रमिकों का निबंधन 31 दिसम्बर 2021 तक करने का निदेश प्राप्त है। असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का निबंधन निःशुल्क कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) के माध्यम से किया जाएगा। उन्होंने बताया कि असंगठित क्षेत्र के अंतर्गत श्रमिकों यथा-निर्माण श्रमिक, प्रवासी श्रमिक, घरेलू कामगार, स्वनियोजित कामगार, आशा वर्कर, आँगनबाड़ी वर्कर, कृषि एवं पशुपालन में कार्यरत मजदूर, मनरेगा मजदूर, सब्जी और फल विक्रेता, नाई, समाचार पत्र विक्रेता, रिक्शा चालक, ऑटो चालकर्, इंट भट्टों और पत्थर की खदानों में काम करने वाले मजदूर मछुआरे, खेतीहर मजदूर, फुटपाथ विक्रेता, आँगनबाड़ी सेविका व सहायिका, रसोईया, जल सहिया, सखी मंडल में कार्यरत् महिलाएं, वैसे सभी कार्यरत् श्रमिक जिनका पी.एफ., ई.एस.आई., इनकम टैक्स नहीं कटता है वे सभी असंगठित क्षेत्र के दायरे में आएंगे। कृषि विभाग के कृषक मित्र, स्वयं सहायता सखी मंडल की सदस्य, नगर परिषद के सफाई कर्मचारी आदि।
श्रम अधीक्षक ने बताया कि इस पोर्टल के माध्यम से 16-59 वर्ष तक के आयु के लाभार्थियों का पंजीकरण किया जा सकता है। इस योजना के लिए वही लाभार्थी योग्य होंगे, जो आयकर के दायरे में नहीं आते है और ई.पी.एफ.ओ., इ.एस.आई.सी. में पंजीकृत न हो। पंजीकृत श्रमिकों को पीएम सुरक्षा बीमा योजना एक वर्ष के लिए निःशुल्क दिया जाएगा। पंजीकृत श्रमिकों को केन्द्र सरकार और राज्य सरकार के संचालित योजनाओं से भी भविष्य में लाभान्वित किया जाएगा।
श्रम अधीक्षक ने बताया है कि जिले के सभी असंगठित क्षेत्र के मजदूर अपने नजदीक के प्रज्ञा केन्द्र में जाकर अपना निबंधन करा सकते है। उन्होंने असंगठित श्रमिकों से अपील की है कि वे नजदीक के प्रज्ञा केन्द्र में अपना आधार कार्ड एवं मोबाईल नम्बर लेकर जाएं और e-SHRAM पोर्टल में अपना पंजीकरण निःशुल्क कराएं।
कार्यशाला में जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी देवेन्द्र नाथ भादुड़ी ने असंगठित क्षेत्र के मजदूरों को अपने नजदीक के प्रज्ञा केन्द्र में जाकर अधिक से अधिक निबंधन कराने हेतु जिले वासियों से आग्रह किया। साथ ही जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि राज्य सरकार द्वारा गुमला जिले को दिसम्बर 2021 तक 3,35,880 का लक्ष्य निबंधन हेतु दिया गया है। वर्तमान में 3332 असंगठित श्रमिकों का निबंधन किया जा चुका है।
सीएसी स्टेड हेड शंभु कुमार, ई डिस्ट्रिक्ट मैनेजर अमर हुडमारे, सीएससी मैनेजर रंजन नंदा, इन्द्रजीत कुमार व सभी प्रज्ञा केन्द्रों के संचालक व अन्य प्रमुख रूप से उपस्थित थे।