पाकुड़। बुधवार को सूचना भवन सभागार में सबकी योजना सबका विकास अभियान 2021 के निमित प्रखंड संसाधन दल के तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस प्रशिक्षण की अध्यक्षता उप विकास आयुक्त अनमोल कुमार सिंह क द्वारा किया गया। इस प्रशिक्षण का शुभारंभ जिला जनसंपर्क पदाधिकारी डॉ चंदन, जिला पंचायत राज पदाधिकारी श्री महेश राम, परियोजना पदाधिकारी मोतिउर रहमान, डीपीएम ई पंचायत श्री रितेश कुमार ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया उक्त प्रशिक्षण कार्यक्रम में मास्टर प्रशिक्षकों ने सभी प्रखंड पंचायत राज पदाधिकारी, सभी प्रखंड समन्वयक (पंचायती राज), सभी बीपीएम, (जेएसएलपीएस) सभी प्रखंड के बीपीओ (मनरेगा), पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के प्रखंड समन्वयक को प्रशिक्षित किया गया।जिला पंचायत राज पदाधिकारी श्री महेश राम ने बताया कि पंचायतों की ग्रामीण भारत के परिवर्तन में राष्ट्रीय महत्व के विषयों पर प्रमुख योजनाओें के प्रभावी और कुशल कार्यान्वयन में महत्वपूर्ण भूमिका है। 2022-23 के लिए सबकी योजना सबका विकास (जीपीडीपी) तैयार करने हेतु जन योजना अभियान चलाया गया। इसके तहत ग्रामसभा को सशक्त बनाने के लिए ग्रामसभा के जरिए ही योजनाओं के चयन की जानकारी दी गई। पंचायत स्तर ग्रामसभा के माध्यम से योजनाओं का चयन किया जाना है। जिसमें मनरेगा, बाल विकास,14 वें वित्त, विद्युत, स्वास्थ एवं शिक्षा के साथ 19 विभागों से 15 वें वित्त के लिए योजनाएं चयनित की जाएगी। साथ ही पंचायत के विभिन्न पंचायतों में क्रियान्वित गांव-गांव में ग्रामसभा के माध्यम से मिशन अंत्योदय का सर्वे कर इसका ऑनलाइन अपलोड किया जाएगा।जिला पंचायत राज कार्यालय द्वारा यह प्रशिक्षण कार्यक्रम 29सितम्बर से 01 अक्टूबर तक 3 दिनों तक चलाया जा रहा है। इसमे प्रखण्ड पंचायत राज पदाधिकारी, प्रखण्ड समन्वयक पंचायत प्रखण्ड समन्वयक प्रशिक्षत किये जायंगे जो ग्राम पंचायत फेसिलिटेशन टीम को प्रशिक्षित करेंगे तथा ग्राम पंचायतों को वित्तीय वर्ष 2022-23 की वार्षिक कार्य योजना बनाने में सक्रिय सहयोग करेंगे। आज के पहले सत्र में पंचायती राज विभाग के मास्टर ट्रेनर ने पंचायत राज व्यवस्था तथा 15वें वित्त आयोग के बारे में बताया तथा दूसरे सत्र मेंपरियोजना पदाधिकारी मोतिउर रहमान के द्वारा के माध्यम से मनरेगा में योजनाओ के चयन की प्रकिया को विस्तार से समझाया ।