लोहरदगा l दिनांक 30 सितम्बर को राजकीय कृत मध्य विद्यालय लोहरदगा के सम्प्रति प्रभारी प्रधानाध्यापक किशोर कुमार वर्मा को विद्यालय प्रबंधन समिति, स्कूल और अविराम कॉलेज की प्रशिक्षु शिक्षक /शिक्षिकाओं द्वारा भव्य बिदाई कार्यक्रम करके भावभीनी बिदाई दिया गया !इस अवसर पर विद्यालय की वर्तमान प्रभारी प्रधानधायपिका रेखा सोनी द्वारा बुके देकर और शिक्षकों द्वारा शॉल ओढ़ा कर सम्मानित किया गया वहीँ अविराम कॉलेज की प्रशिक्षु शिक्षकों और सरस्वती माता समिति तथा विद्यालय प्रबंधन समिति द्वारा बुके एवं शॉल ओढ़ा कर सम्मानित किया गया ! प्रभारी प्रधानाध्यापिका रेखा सोनी द्वारा वर्मा द्वारा विगत 12 वर्षों मे किये गए कार्यों की सराहना करते हुए स्वर्णिम काल बताई, विद्यालय प्रबंधन अध्यक्ष दिव्या भारती द्वारा वर्मा के द्वारा बच्चों के मोटिवेशन के लिए धन्यवाद देते हुए बराबर विद्यालय आकर शिक्षा से जुड़ने का आग्रह की !इस अवसर पर अपने सेवानिवृति के अंतिम दिन राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त शिक्षक किशोर कुमार वर्मा ने कहा की संसार का चक्र्व्यू है की जो आता है वो जायेगा ही लेकिन जो अच्छे कर्म का बीज बोते है उनकी यादें इन्ही बीजों के जरिये संसार मे बिखेरती रहती है !जिन्होंने भी दूसरों के लिए जिया है समाज और देश के लिए कार्य किया है उनकी यादें हमेसा जीवंत बनी रहती है, हमेसा इंसान को अपना बेस्ट देने का प्रयास करना चाहिए और जज्बा रहेगा तभी कोई कार्य को अंजाम तक़ पहुँचाया जा सकता है, कोई भी बच्चा या घर को बनाने मे बहुत मेहनत और एक एक तिनका जोड़ना पड़ता है बच्चा भी जन्म लेकर तुरंत दौड़ने नहीं लगता है उठता है गिरता है तभी चल पाता है और जो गिरता नहीं है वो जीवन मे बहुत दूर तक़ आगे सफल नहीं हों पाता है और गिर कर उठने वाला ही सफलता प्राप्त करता है !मैंने एक सरकारी स्कूल जो बहुत दुःखद स्तिथि मे था उसे उठाने का पुरजोर मेहनत किये इसमें पूर्व पुलिस अधीक्षक श्री सुबोध प्रसाद जी का सराहनीय योगदान रहा जिन्होंने स्कूल के बच्चों की प्रतिभा को देखते हुए शत प्रतिशत उपस्थित रहने वालों को साइकिल प्रदान किये साथ ही नक्सली बच्चों को मुख्यधारा मे लाने के लिए उन्होंने स्कूल मे हॉस्टल बना कर मुझे जिम्मेदारी दिए जिसे मैंने चुपचाप अंजाम दिया आज वो नक्सली बच्चे स्नातक की पढ़ाई करके अच्छा जीवन यापन कर रहा है एवं पूर्व अधीक्षक श्री सुनील भाष्कर जी ने रक्षाबंधन कार्यक्रम मे आकर बच्चों को राखी का तौफा के रूप मे 100 बेंच डेस्क प्रदान किये, भारतीय स्टेट बैंक लोहरदगा ने स्कूल के बच्चों की क्विज प्रतियोगिता मे अच्छा करने पर पंखा प्रदान कर स्कूल को आगे बढ़ाने मे सराहनीय योगदान दिए है आर्टिस्ट बासु द्वारा नवाचार के रूप मे रेल बोगी क्लास रूम को बना कर आकर्षित करने का प्रयास किया गया तोरण द्वार और सभा भवन बना कर बच्चों के चहुँमुखी विकास करने का मौका दिया गया वहीँ प्रार्थना सभा मे माइक द्वारा सुविचार कहकर अपनी अभिव्यक्ति करके बच्चों को बोल्डनेस बनाने का प्रयास किया गया, तभी तो जिला का सरकारी स्कूल शान – बान के साथ खड़ा है 5स्टार और A ग्रेड का पुरस्कार 2017 मे तथा मुख्यमंत्री स्कूल स्वछता पुरस्कार 2019-20 का झारखण्ड मे अग्रणी स्थान पाया और जिला का गौरव बढ़ाने का प्रयास करके गरीब बच्चों का सर्वांगीण विकास कराकर मनोबल ऊँचा बनाने का साहसिक प्रयास किया गया लेकिन शिक्षा पदाधिकारी द्वारा व्यक्तिगत आरोप लगा कर निचले स्तर की मानसिकता का परिचय दिए है जो एक शिक्षा जगत के लिए दुःखदायी और भविष्य के लिए निश्चित रूप से कलंकित करने वाला है की जिस शिक्षक ने विभाग का इज्जत सम्मान और जिला का गौरव बढ़ाने का प्रयास करने वाला को अंतिम समय मे केस मुकदमा करके निचा गिराने का कुत्सित प्रयास दुःखद है और अन्य शिक्षकों का मनोबल गिराने का प्रयास हैँ ऐसा शिक्षा और स्वास्थ्य विभाग जो जीवन का नीव खड़ा करता है समाज और देश की दशा और दिशा बदलने का कार्य करता है वहां भ्रष्टाचार शिष्टाचार बन जाये तो वो समाज और देश के लिए कलंकित है!वर्मा ने कहा की ईमानदारी और निष्ठा से किया गया कार्य कभी असफल नहीं होता है आप जैस कर्म करेंगे बच्चे वैसा ही अनुसरण करते है !इस अवसर पर विद्यालय प्रबंधन समिति अध्यक्ष श्रीमती दिव्या ठाकुर, उपाध्यक्ष धर्मेंद्र भगत, रेखा सोनी, रामलगन उरॉंव, किरण कुमारी, जेरोमी लकड़ा, रीता एक्का, पुष्पलता टोप्पो, बेबी तब्बुसम, कृष्णा ठाकुर, मीणा देवी, जय माँ देवी, गुड़िया देवी, सारो देवी, नीलम वर्मा, प्रमिला यादव, विद्यालय के बच्चे और अविराम कॉलेज की प्रशिक्षु शिक्षकें उपस्तिथ थे