गोड्डा पुलिस सफेद पोशाक में आरोपित को गए पकड़ने अपहरणकर्ता समझ कर किया हमला

स्थानीय थाना पुलिस भी उनके साथ नहीं थे।

साहिबगंज ( उधवा ) । गोड्डा जिले के मेहरमा थाने में एक कांड के आरोपित की गिरफ्तारी को लेकर गुरुवार को मेहरमा थाने के एसआई प्रवीण कुमार मोदी, कांस्टेबल असफाक आलम सहित अन्य पुलिस बल सिविल ड्रेस में राधानगर थाना क्षेत्र के दक्षिण पालशगाछी गांव गई थी। वही पालशगाछी बाजार में रबीउल इस्लाम के दुकान पर छापेमारी कर उसे गिरफ्तार कर अपने साथ लेकर जाने लगी। बताया जाता है उक्त युवक वारिश फाइनेंस कंपनी का एक एजेंट था।उसके विरुद्ध लाखों रुपए गबन मामले को लेकर मेहरामा थाने में मामला दर्ज था। हालांकि पुलिस द्वारा उक्त युवक को अपनी पुलिस होने की बात नहीं बताई गई थी। इसी बीच रबीउल इस्लाम हो हल्ला करने लगा। उसने बताया की जबरन उसे गाड़ी में बैठाकर कुछ लोग अपने साथ कहीं ले जा रहे है। आवाज सुनकर आसपास के लोग घटनास्थल पर पहुंचकर पुलिस को ही कंपनी का एजेंट समझकर उनके साथ हाथापाई शुरू कर दी। इसी बीच पुलिस और ग्रामीणों के साथ जमकर मारपीट हो गई। वही बाद में पुलिस ने ग्रामीणों को गोड्डा थाने की पुलिस होने की बात कही। इधर ग्रामीणों को पुलिस की बातों पर भरोसा नही हुआ और जमकर मारपीट होने लगी। लोगो का कहना है कि पुलिस के पास न तो पिस्तौल था और न ही वर्दी पहने हुए थे। सूत्र के मुताबिक पुलिस अपने पिस्तौल और वर्दी को अपने गाड़ी में रखे हुए थे। इधर घटना की सूचना मिलते ही आसपास के ग्रामीणों की भीड़ घटनास्थल पर जुटने लगी।वही कुछ लोग पुलिस को धड़-पकड़ रही थी तो कुछ लोग उसे बचा भी रही थी। फिर भी आक्रोशित भीड़ ने पुलिस के साथ मारपीट कर दी।

वही बाद में पुलिस ने ग्रामीणों को गोड्डा थाने की पुलिस होने की बात कहते हुए अपना परिचय पत्र लोगों के बीच प्रस्तुत किया। इसी बीच लोगों में भगदड़ मच गई। वही इस घटना में एक 50 वर्षीय अब्दुस सलाल नामक व्यक्ति की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि मृतक ह्रदय रोग से पीड़ित था।इसका सूचना स्थानीय थाना पुलिस को हुई राधानगर थाना पुलिस घटनास्थल पर पहुंच कर भीड़ को संत कराया।