साहिबगंज। जिले में 25 सितंबर से 02 अक्टूबर तक नमामि गंगे परियोजना एवं आजादी का 75वां अमृत महोत्सव के अंतर्गत स्वच्छता ही सेवा कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है।उक्त कार्यक्रम हेतु कारी योजना बनाई गई है जिनमें विभिन्न कार्यक्रम एवं गतिविधियों के माध्यम से गंगा तटों पर बसे गांव,गंगा घाट आदि को साफ किया जाएगा साथ ही गंगा तटों को साफ रखने हेतु लोगों को प्रेरित भी किया जाएगा। इन कार्यक्रमों में मुख्य रूप से गंगा स्वच्छता रैली निकाल कर लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक किया जाएगा, चित्रकला रंगोली प्रतियोगिता, शपथ ग्रहण कार्यक्रम, स्वच्छता चौपाल लगाकर लोगों में जागरूकता वाद विवाद प्रतियोगिता नृत्य कार्यक्रम,क्विज़ प्रतियोगिता,नाटक, श्रमदान कार्यक्रम आदि आयोजित की जाएगी।

चित्रकला के माध्यम से सकारात्मक संदेश

गांधी जयंती के अवसर पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के स्वच्छ भारत के सपने को नया आयाम देने के उद्देश्य से जिला स्तर पर पोखरिया चित्र टाउन हॉल हॉल में विद्यालय के छात्र छात्राओं के बीच चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।
बच्चे अगर छोटी उम्र में ही स्वच्छता को आत्मसात कर लें एवं अपने वातावरण को प्रदूषण मुक्त रखने, अधिक से अधिक पौधारोपण करने, कूड़ा कचरा ना फैलाने एवं प्लास्टिक जैसी हानिकारक वस्तुओं का उपयोग न करने आदि के प्रति जागरूक हो जाएं तो निश्चित की उनका एवं हमारे समाज का आने वाला कल स्वच्छ सुंदर एवं स्वस्थ हो सकेगा।इसी सोच के साथ छात्र छात्राओं ने शनिवार को चित्रकला के माध्यम से समाज को एक सकारात्मक संदेश देने का प्रयास किया की हमारे जिले से बहने वाली निर्मल, पावन गंगा की साफ-सफाई किसी एक व्यक्ति की जिम्मेदारी नहीं है बल्कि हम सभी की जिम्मेदारी है, इसलिए हम सबों को मिलकर यह सामूहिक प्रयास करना पड़ेगा की हमारी गंगा, हमारे तट, हमारे गांव, हमारा समाज,हमारा ज़िला, हमारा राज्य और हमारा देश स्वच्छ हो और स्वस्थ हो।
वही शनिवार के कार्यक्रम में बच्चों ने चित्रकला के माध्यम से ग्लोबल वार्मिंग जैसी समस्या पर प्रकाश डालने का प्रयत्न किया, जंगल की उपयोगिता को हमारे समक्ष रखा, गंगा को बचाने की दिशा में हम क्या पहल कर सकते हैं इस सोच को कागज पर उकेरा एवं प्रदूषण से निपटने के उपाय से अवगत कराया।कार्यक्रम के दौरान जिला सांख्यिकी पदाधिकारी सुशील पंडित परियोजना पदाधिकारी संदीप कुमार स्वच्छ भारत मिशन के समन्वयक राहुल कुमार श्याम विश्वकर्मा विद्यालय के शिक्षक प्रतिभागी छात्र-छात्राएं एवं अन्य उपस्थित थे।