भंडरा/लोहरदगा l प्रखंड मुख्यालय स्थित सभा भवन में सोमवार को जेएसएलपीएल द्वारा संचालित जोहर परियोजना को लेकर कैडरों को प्रशिक्षण दिया गया । प्रशिक्षण में जोहर परियोजना के बीपीएम अखिलेश कुमार ने बताया कि झारखंड ग्रामीण विकास विभाग की ‘जोहार परियोजना’ किसानों की उपज को बाजार तो आम लोगों को ताजा फल-सब्जियां उपलब्ध करवा रही है। इस योजना से महिला किसानों को काफी फायदा हो रहा है। किसानों को खेतीबाड़ी के काम और बाजार उपलब्ध करने में सहयोग किया जा रहा है। मौके पर जोहर परियोजना के सिचाई सलाहकार नवनीत एक्का ने बताया कि जोहार परियोजना के सिंचाई योजना के माध्यम से सालोभर खेती की जा रही है। वर्ष 2021-22 में जिले में पाॅली नर्सरी हाउस का निर्माण कर अनेक प्रकार की सब्जी गाछी तैयार करने की योजना है। मछली उत्पादन के लिए जोहार परियोजना द्वारा प्रति एकड़ के दर से सहयोग राशि एवं वैज्ञानिक तरीके से मछली पालन कर उत्पादन में वृद्धि करने के लिए ग्रामीण स्तर में प्रशिक्षण दिया जाता है। बैठक में कहा गया कि पशुधन योजना अंतर्गत सुकर और बकरी पालन में सैकड़ो दीदी जुड़ी है। इन दीदीयाें के लिए जोहार सहयोग राशि द्वारा सुकर और बकरी पालन करने के लिए शेड निर्माण कराया जा रहा है। इस मौके पर जेएसएलपीएस प्रखंड कार्यक्रम प्रबंधक अखिलेश कुमार, प्रखंड सिचाई सलाहकार नवनीत एक्का,मनीष लकड़ा,शिव कुमार सहित काफी संख्या योजना से जुडे कैडर उपस्थित थे।