हजारीबाग । भारतीय राष्ट्रीय मजदूर कांग्रेस ( इंटक ) के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष साजिद अली खान प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया है । कि बानादाग शेडिंग मामले में ग्रामीणों के सभी 21 सूत्री मांगों का समर्थन करते हुए यह निर्णय लिया है की किसी भी परिस्थिति में ग्रामीणों का एनटीपीसी एवं त्रिवेणी सैनिक को लिमिटेड के द्वारा शोषण एवं दोहन को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। विकट से विकट परिस्थिति में इंटक के सभी पदाधिकारी प्रभावित बानादाग, कटकमदाग ,बांका ,कुसुंबा के ग्रामीणों के साथ खड़ी रहेगी पत्रकारों को संबोधित करते हुए साजिद ने कहा कि यह मामला अब प्रदेश स्तर पर चर्चा का विषय बना हुआ है और (इंटक )ग्रामीणों के साथ ढाल बनकर खड़े रहने का निर्णय लिया है ।सांसद जयंत सिंहा के बयान पर साजिद कहा कि कोयला के कामों में उनकी संलिप्तता है या नहीं इसका क्लीन चिट मनीष जायसवाल ही दे पाएंगे। क्योंकि विधायक के पास पूरी लिस्ट पड़ी हुई है ऐसे 2024 लोकसभा चुनाव में सांसद महोदय सार्वजनिक जीवन से निश्चित तौर पर विदाई तय हो चुकी है। हजारीबाग की जनता उन्हें बक्सर भेजने का कार्य करेगी यह पूछे जाने पर की ग्रामीणों ने जो बंद का आह्वान किया है उसमें इंटक कि क्या सहभागिता रहेगी उस पर उन्होंने कहा कि कि निश्चित तौर पर इंटक के जिला स्तर से लेकर प्रखंड स्तर के कार्यकर्ता उपस्थित होकर ग्रामीणों की जायज मांगों को दिलाने का कार्य करेंगे। आवश्यकता पड़ने पर इस आंदोलन को राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामीनाथ जैस्वाल के संज्ञान में देने का कार्य किया जाएगा !