लोहरदगा । जिला कृषि पदाधिकारी ने कहा कि जिले में 50855 किसानों को पीएम किसान योजना का लाभ मिला था। अभी भी जिले के 13779 किसान ऐसे हैं जिन्हें केसीसी योजना का लाभ दिया जाना है। बैंकों द्वारा मात्र 2050 आवेदन ही स्वीकृत किये गये हैं। बैंकों द्वारा किसानों के केसीसी आवेदन में अद्यतन लगान रसीद, वंशावली की आवश्यकता होती है जिसे संबंधित अंचल अधिकारी जारी करें। एटीएम बीटीएम, जनसेवक सभी अपने दायित्वों का निर्वहन करें ताकि जरूरतमंद किसानों को केसीसी से अच्छादित किया जा सके।

आबद्ध और अनाबद्ध राशि को जल्द योजनाओं में खर्च करें

जिला पंचायती राज पदाधिकारी अनुराधा कुमारी ने कहा कि 15वें वित्त आयोग के तहत वित्तीय वर्ष 21-22 के लिए प्राप्त राशि हमें पंचायत चुनाव की घोषणा से पूर्व खर्च कर लेना है या अभिलेख खोल लेना है। 10 दिन के भीतर अभिलेख खोलें, उसकी प्रशासनिक स्वीकृति ले लें। पंचायत स्तर पर अभिलेख 3 दिन के भीतर खोल लें। ग्राम सभा से पारित योजनाओं के लिए लाभुक समिति का चयन 3 दिन के भीतर कर लें, योजना को प्रारंभ करने के लिए कार्यादेश दे दें।
15वें वित्त आयोग अंतर्गत 60 फीसदी राशि आबद्ध राशि (Tied Fund) है और 40 फीसदी की राशि अनाबद्ध की राशि (Untied fund) दी गयी है। आबद्ध राशि में आधी राशि स्वास्थ्य और आधी पेयजल की योजनाओं में खर्च की जाएंगी। पेयजल की योजनाओं में पाइपलाइन की योजना अंतर्गत वाटर कनेक्शन, जल का पुनःचक्रण की योजनाएं लेनी हैं। स्वच्छता के मद में खर्च किये जाने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट की योजनाएं और नाली के रख रखाव का कार्य किया जाना है। अनाबद्ध राशि से ग्राम सभा द्वारा आवश्यकतानुसार पारित योजनाओं को लेना है।

आज के कार्यक्रम में उप विकास आयुक्त अखौरी शशांक सिन्हा, अनुमण्डल पदाधिकारी अरविंद कुमार लाल, कल्याण पदाधिकारी नारायण राम, जिला आपूर्ति पदाधिकारी प्रवीण केरकेट्टा, समाजिक सुरक्षा सहायक निदेशक अलमल इंदु उरांव, सभी प्रखण्ड विकास पदाधिकारी, कार्यपालक अभियन्ता, पेयजल एवं स्वच्छता प्रमण्डल लोहरदगा, कार्यकारी समिति लोहरदगा, उपाध्यक्ष जिला परिषद् कार्यकारी समिति लोहरदगा, सभी अध्यक्ष-सह-कार्यकारी प्रधान (प्रमुख), पंचायत समिति, कार्यकारी समिति, जिला-लोहरदगा, सभी उपाध्यक्ष, पंचायत समिति (उप प्रमुख कार्यकारी समिति लोहरदगा, सभी अध्यक्ष-सह-कार्यकारी प्रधान (मुखिया) ग्राम पंचायत कार्यकारी समिति लोहरदगा, सभी पंचायत सचिव लोहरदगा आदि उपस्थित थे।