लोहरदगा l एसपी प्रियंका मीना द्वारा नक्सल प्रभावित सेरेंगदाग थाना क्षेत्र के शाहीघाट, गम्हरिया, सनई, जरनी,गूनी इलाके में सामुदायिक पुलिसिंग के तहत कार्यक्रम आयोजित की गई । एसपी ने ग्रामीणों से मिलकर उनकी समस्याओं को सुना। कहा कि आप पुलिस की मदद करें, पुलिस आपकी मदद को हमेशा तैयार रहेगी। लोहरदगा एसपी द्वारा बताया गया कि ग्रामीणों के अंदर जो नक्सलियों का भय है उसे दूर किया जाएगा। नक्सल गतिविधियों पर लगाम लगाया जाएगा।
पुलिस आपका मित्र है। हम हमेशा आपकी मदद के लिए तैयार हैं। पुलिस अधीक्षक द्वारा सामुदायिक पुलिसिंग का कार्यक्रम आयोजित कर ग्रामीण युवकों को संदेश दिये । एसपी ने कहा कि समाज से भटके ग्रामीण युवक मुख्यधारा से जुड़कर गांव के विकास में भागीदारी निभाएं।

गांव के समुचित विकास के लिए सभी ग्रामीणों का सहयोग आवश्यक है। नक्सली गतिविधि के कारण आज गांव का विकास अधूरा पड़ा है। नक्सल गतिविधियों की समाप्ति के साथ गांव में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। जिसमें ग्रामीणों का सहयोग व भागीदारी जरूरी है। सरकार के आत्मसमर्पण नीति के तहत गांव के बेरोजगार ग्रामीण युवक जो समाज से भटक गए हैं। वे आत्मसमर्पण कर समाज की मुख्यधारा में जुड़कर समर्पण नीति का लाभ लें।

एसपी ने कहा कि अंधविश्वास व नशापान से दूर रहकर ग्राम विकास में महिलाएं अपनी महत्वपूर्ण भागीदारी निभाएं। गांव में शराबबंदी सहित अन्य कार्यक्रम पूरी जागरूकता के साथ चलाकर लोगों को नशा से दूर रखें। जिससे गांव के विकास में सहयोग प्राप्त होगा।

मौके पर सामुदायिक पुलिसिंग के तहत कई गांव के अनेको टोलों के आए ग्रामीणों के बीच शाॅल, छाता, आदि विभिन्न सामग्री पुलिस अधिकारियों द्वारा वितरित की गई। ग्रामीण बालक बालिकाओं के बीच कॉपी, कलम तथा बिस्किट के पैकेट वितरित की गई। मौके पर कई गांव के सैकड़ो महिला पुरुष शामिल थे।एसपी के साथ में अपर पुलिस उपाधीक्षक अभियान दीपक पांडे, पुलिस उपाधीक्षक मुख्यालय परमेश्वर प्रसाद, सेंन्हा थाना प्रभारी सूरज प्रसाद , सेरेंगदाग थाना प्रभारी सनी कुमार तथा सेट के जवान शामिल थे।