पाकुड़। सबकी योजना सबका विकास अभियान 2021 के तहत ग्राम पंचायत विकास योजनांतर्गत ग्राम पंचायत सहजकर्ता दल के दो दिवसीय प्रखंड स्तरीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ प्रखंड सभागार भवन में किया गया।
सबकी योजना सबका विकास अभियान को संबोधित करते हुए प्रखंड विकास पदाधिकारी कुमार देवेश द्विवेदी ने कहा कि ग्रामीण विकास विभाग (पंचायती राज) झारखंड राँची के निर्देशानुसार विगत वर्ष 2018-19 एवं 2019-20 की भांति इस वर्ष भी आगामी 02 अक्तूबर 2021 से 31 जनवरी 2022 तक सबकी योजना सबका विकास अभियान का संचालन किया जाना है। इस निमित्त आज अमड़ापाड़ा प्रखंड अंतर्गत ग्राम पंचायत सहजकर्ता दल के दो दिवसीय प्रखंड स्तरीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया है। इस अभियान के माध्यम से ग्राम पंचायतों की संख्या को ध्यान में रखते हुए बड़े पैमाने पर शुरू किया गया है। जिसके द्वारा प्रखंड के अनुसूचित जाति,अनुसूचित जनजाति, महिलाओं आदि जैसे समाज के कमजोर एवं वंचित वर्गों की अधिकतम भागीदारी सुनिश्चित करते हुए समाज का विकास किया जाएगा। इसके लिए 29 विभागों को समावेशित किया गया है। उन्होंने कहा कि केवल योजनाओं का चयन ही नहीं अपितु गाँव-गाँव जाकर वहां की समस्याओं का आंकलन करते हुए आवश्यकतानुसार योजनाओं का चयन करने हेतु ग्राम सभा में उपस्थापित भी करें। उन्होंने आगे कहा कि केवल रोड/ पुल/ पुलिया से संबधित योजनाओं का ही चयन न करें, वरन ग्रामवार एवं व्यक्तिवार समस्याओं का आंकलन कर, उन समस्याओं को समावेशित करते हुए उनका निष्पादन भी सुनिश्चित कराएं इस अवसर पर सबकी योजना सबका विकास अभियान को संबोधित करते हुए प्रखंड पंचायत राज पदाधिकारी ज़िल्लूर रहमान ने कहा कि यह अभियान 02 अक्तूबर 2021 राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी के जन्मदिवस के अवसर पर प्रारंभ होकर आगामी 31 जनवरी 2022 तक संचालित की जाएगी। अभियान के दौरान त्रिस्तरीय पंचायतों द्वारा अपनी वार्षिक विकास योजना तैयार की जाएगी एवं इसकी प्रविष्टि तथा अनुमोदन ई-ग्राम स्वराज पोर्टल पर की जाएगी। प्रखंड स्तरीय प्रशिक्षण कार्यक्रम में भाग लेने वाले प्रतिभागी इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रशिक्षित होने के उपरान्त ग्राम पंचायतों को वित्तीय वर्ष 2022-23 की वार्षिक कार्य योजना बनाने में सक्रीय सहयोग करेंगे। उन्होंने आगे कहा कि सभी विभागों का समावेश कर एक चरणबद्ध तरीके से ग्राम पंचायत के विकास के लिए ग्राम पंचायत विकास योजना तैयार कर विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं का चयन कर उनका क्रियान्वयन सुनिश्चित किया जाएगा। इस कार्यशाला का मुख्य उद्देश्य प्रतिभागियों का क्षमता वर्द्धन करना है, ताकि समाज के साथ-साथ समाज में रहने वाले वंचित लोगों का भी विकास किया जा सके।इस अवसर पर प्रखंड स्तरीय प्रशिक्षण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रखंड समन्वय, पंचायत राज स्वाशासन परिषद आनंद प्रकाश ने कहा कि आज के प्रशिक्षण कार्यक्रम में अमड़ापाड़ा प्रखंड के सभी पंचायतों से आए ग्राम पंचायत सहजकर्ता दल के सदस्य को प्रशिक्षण दिया जाएगा। उन्होंने आगे कहा कि सरकार की योजनाएं तब ही धरातल पर आएंगी जब जन सहभागिता होगी और लोगों के अनुरूप योजनाओं का चयन किया जाएगा।कार्यशाला में पावरप्वाइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से प्रशिक्षणार्थियों को प्रशिक्षण दिया गया। कार्यशाला का मंच संचालन प्रखंड कार्यक्रम पदाधिकारी,मनरेगा अजय कुमार गुप्ता द्वारा किया गया।कार्यशाला में प्रखंड विकास पदाधिकारी देवेश कुमार द्विवेदी,प्रखंड सहकारिता प्रसार पदाधिकारी अभय कुमार, प्रखंड संसाधन दल के सदस्य, ग्राम पंचायत सहजकर्ता दल के सदस्य,पंचायत समिति ,प्रधान, कार्यकारी समिति व अन्य उपस्थित थे।