पाकुड़ ( लिट्टीपाड़ा ) । गुरुवार को प्रखंड क्षेत्रों के सुरजबेड़ा पंचायत के चितलो फार्म आम बागान मे संघर्ष समिति के आह्वान पर एक समाजिक महत्वपूर्ण बैठक आयोजन किया गया। झारखंड सरकार की कोविड 19 नियमों का दिशा निर्देश को ध्यान में रखते हुए बैठक किया गया।बैठक की अध्यक्षता संघर्ष समिति के अध्यक्ष कालीदास हेब्रम ने किया ।बैठक जमीन विवाद सुलझाने को लेकर बुलाया गया था।संघर्ष समिति और जमीन मलिक श्रीधन हेब्रम एंव जमीन खरीदने वाले सागर मैड़या ,तथा ग्राम प्रधान दिनेश टुडु के बीच होना था ।जिसमें आज के इस बैठक में द्वितीय पक्ष जमीन मलिक श्रीधन हेब्रम, जमीन लेने वाले सागर मैड़या, तथा प्रधान दिनेश टुडू ने भाग नहीं लिया गया।द्वितीय पक्ष अनुपस्थिति रहने के कारण जमीन विवाद को सुलझाया नहीं जा सका।उपस्थित संघर्ष समिति के समाजिक कार्यकार्ताओं ने आज के इस बैठक में सर्वसम्मति से निम्नलिखित प्रस्ताव पारित किया गया :-
( 1 ) बैठक में द्वितीय पक्ष भाग नहीं लेने के कारण निर्णय लिया गया है कि एक संघर्ष समिति के प्रतिनिधि मंडल एक सप्ताह के अन्दर समास्या सुलझाने हेतु द्वितीय पक्ष से समझौता करने जाएंगे।

(2 ) बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया है कि इस संघर्ष समिति क्षेत्रों में किसी प्रकार से जमीन का गौर आदिवासियों के हाथों अवैध हस्तांतरण पर रोक लगाया जाएगा।

(3)बैठक में समझौता हेतु निम्म प्रतिनिधि मंडल पारित की गई।

जगन हाँसदा प्रधान बैजनाथपुर
इग्नाशियुस सोरेन मोहनपुर
सुकदा सोरेन प्रधान लखनपुर
गणेश मरांडी चितलो फार्म
बाबूधन मरांडी बरोमसिया
गायना हाँसदा बैजनाथपुर,
विकास टुडु मोहनपुर
सुनील मुर्मू चितलो
निसपेटर मरांडी चितलो ।इस बैठक में निम्न लोगों ने अपनी अपनी विचार रखा बिनायलाल मरांडी, शिबू सोरेन प्रोफेसर के.के. एम काँलेज पाकुड़ ,निर्मल मुर्मु, प्रोफेसर सिदो कान्हु मुर्मू विश्वविद्यालय दुमका, राकेश टुडू, बिजामिन मुर्मू, इस क्षेत्रों के उपस्थित सभी ग्राम प्रधान, ग्रमीणों सहित ।तथा बैठक में सैकड़ों तदात पर संघर्ष समिति के समाजिक कार्यकार्ता मौजूद थे।