लोहरदगा l झारखंड बिजली वितरण निगम के निदेशक (ऑपरेशन) और झारखंड ऊर्जा संचरण निगम के एमडी केके वर्मा ने कहा है कि बिजली को लेकर फिलहाल पूरे देश में हालत खराब है. राष्ट्रीय आपदा की स्थिति है. इसलिए आनेवाले सात दिनों तक बिजली संकट का सामना करना पड़ सकता है. निदेशक केके वर्मा ने कहा कि इस बार काफी बारिश हुई है, जिसके कारण कई कोयला खदानों में पानी भर गया है. जिसके कारण कोयला गीला हो चुका है. इसके कारण देशभर के कई पावर प्लांट में क्षमता से कम बिजली का उत्पादन हो रहा है. इस देशव्यापी कोयला संकट का असर झारखंड में भी देखने को मिल रहा है. झारखंड में लगभग 450 से 500 मेगावाट बिजली की कमी हो रही है. इसलिए लोग बिजली का इस्तेमाल तभी करें, जब जरूरत हो.

MD ने लोगों से की अपील

अभी देश में राष्ट्रीय आपदा की स्थिति है, लोग बिजली की खपत कम करें. उन्होंने कहा कि इस साल ज्यादा बारिश के कारण कोयला खदानों में पानी भर गया है, जिसके कारण प्लांटों को कोयला मिलने में परेशानी हो रही हैl