ज़िले के क्रिकेट जगत में शोक की लहर

साहिबगंज। सीनियर क्रिकेटर मृणाल जोरदार उर्फ बापी दा (54) का रविवार को हार्ट अटैक से निधन हो गया।मिली जानकारी के अनुसार रविवार को छुट्टी रहने पर मृणाल जोरदार घर का काम करवा रहे थे।तभी चक्कर आने पर गिर गए।पुत्र गौरव व अन्य अनानफानन में मृणाल जोरदार को सदर अस्पताल ले गए।जहां चिकित्सकों में उन्हें मृत घोषित कर दिया।मृणाल जोरदार अपने पीछे पत्नी,पुत्र गौरव व श्रीयांश छोड़ गए हैं।उनके निधन से साहिबगंज क्रिकेट जगत में शोक की लहर दौड़ गयी है।सूचना मिलते ही जेएससीए सदस्य चंदेश्वर प्रसाद सिन्हा,मो अशफाक,राकेश गुप्ता,सतीश सिन्हा,रब नवाज आलम ने मृणाल जोरदार के घर पहुंच शोक संतप्त परिवार को ढांढ़स बंधाया। इधर ज़िला क्रिकेट संघ सचिव अंकुर सिन्हा,अमित तिवारी, चतुरानंद पांडेय,सुरेश प्रसाद साह,राष्ट्रीय एथलेटिक्स कोच योगेश प्रसाद यादव,मो बिलाल, रविन्द्र कुमार,गोपाल,रिजवान, सनाउल्लाह,सादात,पूर्व क्रिकेटर जयकिशन शर्मा,संजय सिन्हा, सतीश झा,चंद्रजीत सिंह,अनांद वर्धन,विप्लव पाल,रामकिशन महतो,आदित्य सिंह,भगलपुर के छोबाय दा सहित दर्जनों ने शोक व्यक्त किया है।

संत जेवियर स्कूल में स्पोर्ट्स को ज़िंदा किया

मृणाल जोरदार ने बतौर क्रिकेटर जहां साहिबगंज में खिलाड़ियों को निखारने का काम किया।वहीं 1996 में बतौर शिक्षक संत जेवियर स्कूल जॉइन करने के बाद उन्होंने संत जेवियर स्कूल में स्पोर्ट्स को ज़िंदा करने में अहम योगदान निभाया।बतौर क्रिकेटर मृणाल जोरदार ने रेस्ट बिहार(रणजी ट्रॉफी ट्रायल), हेमंस ट्रॉफी व बिहार,बंगाल व झारखंड में कई क्रिकेट टूर्नामेंट में अपने प्रदर्शन से सबका दिल जीता।पारिवारिक व्यस्तता के बीच उन्होंने कुछ वर्षों तक खेल छोड़ दिया।लेकिन फिर 2019 में क्रिकेट खेलना शुरू किया। फिलहाल यूथ क्रिकेट क्लब से जुड़ कर खेल रहे थे।

संत जेवियर स्कूल में शोक की लहर

मृणाल जोरदार के आकस्मिक निधन से संत जेवियर स्कूल में शोक की लहर दौड़ गयी।फादर हिलेरी डिसूजा,सिस्टर ग्रेसी, अशोक कुमार तिवारी,संजय पांडेय,कुणाल पाठक,सर रेनी, दीपांकर,रवि राय,बेन जॉनसन, अनुराग,हिंदी मीडियम के इग्नेशियस लकड़ा,फादर मिल्की, सर जेम्स,सर बेन जॉनसन, आशीष रंजन व अन्य ने शोक व्यक्त किया।