साहिबगंज। समाहरणालय स्थित सभागार में उपायुक्त रामनिवास यादव की अध्यक्षता में खनन टास्क फोर्स की बैठक आयोजित की गई।बैठक के दौरान उपायुक्त श्री यादव ने बताया कि एनजीटी की टीम द्वारा जिले में आगामी कुछ दिनों में इंस्पेक्शन किया जाएगा,जहां टीम द्वारा खनन कार्यों के प्रभाव गंगा तटों के आसपास प्रभाव आदि से संबंधित आकलन किया जाना है। इसे देखते हुए संबंधित पदाधिकारी खनन कार्यों के दौरान किसी भी प्रकार के दिशानिर्देशों का उल्लंघन ना हो इसे सुनिश्चित कराएंगे एवं उक्त संबंध में सुसंगत धारा के अंतर्गत कार्यवाही करना सुनिश्चित करेंगे।खनन कार्यों की समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने संबंधित पदाधिकारी से खनन गतिविधियों के उल्लंघन संबंधित दिशा निर्देश का बोर्ड लगाने का निर्देश दिया। इस बीच परिवहन पदाधिकारी साहेबगंज को खनन पत्थर चिप्स आदि ले जा रहे हैं ओवरलोड ट्रक पर का चालान काटते हुए उन पर कड़ी कार्यवाही करने का निर्देश दिया गया।
इस क्रम में उपायुक्त ने घाटी पर चल रहे क्रेशर प्लांट की जानकारी ली,जहां उन्होंने कहा कि संबंधित अनुमंडल पदाधिकारी प्रखंड विकास पदाधिकारी थाना प्रभारी आदि रिहायशी इलाकों में पूरी तरह क्रशर एवं माइनिंग गतिविधियों को बंद कर आना सुनिश्चित कराएं।
समीक्षा बैठक के दौरान उपायुक्त रामनिवास यादव ने ओवरलोड ट्रक पर की गई कार्यवाही की समीक्षा,उनसे वसूले गए जुर्माने,अवैध खनन के लिए की गई छापामारी से संबंधित समीक्षा,सड़क किनारे संचालित क्रशर प्लांट से संबंधित कार्यवाही की समीक्षा की।
इसके अलावा उन्होंने क्रशर प्लांटों की स्थिति और बिना सिटीओ के क्रशर प्लांट में विद्युत आपूर्ति से संबंधित समीक्षा करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिए। साथ ही खनन कार्यों में प्रयुक्त ट्रकों के संचालन के दौरान त्रिपाल से ढकना आदि कार्यों पर नजर बनाए रखने अंतर राज्य एवं अंतर जिला चेक नाका पर सीसी टीवी अधिष्ठापन कर ट्रकों के आवागमन पर कड़ी निगरानी रखने का निर्देश दिया।

बैठक के दौरान उपायुक्त के अलावे पुलिस अधीक्षक अनुरंजन किस्पोट्टा, वन प्रमंडल पदाधिकारी मनीष तिवारी, उप विकास आयुक्त प्रभात कुमार अपर समाहर्ता अनुज कुमार प्रसाद,अनुमंडल पदाधिकारी साहिबगंज हेमंत सती, अनुमंडल पदाधिकारी राजमहल रोशन शाह,जिला खनन पदाधिकारी विभूति कुमार जिला शिक्षा पदाधिकारी मिथिलेश झा, सभी सीडीपीओ सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं अंचलाधिकारी तथा अन्य उपस्थित थे।