लोहरदगा । नीति आयोग, भारत सरकार द्वारा संचालित आकांक्षी जिला कार्यक्रम के तहत शिक्षा प्रक्षेत्र में प्राप्त आवंटन के विरूद्ध लोहरदगा जिला के प्रत्येक प्रखण्ड में एक-एक विद्यालय (चयनित) को माॅडल विद्यालय के रूप में विकसित करने हेतु कार्ययोजना बनाने को लेकर एक आवश्यक बैठक आज सोमवार को उपायुक्त दिलीप कुमार टोप्पो की अध्यक्षता में समाहरणालय सभागार में संपन्न हुई। बैठक में सभी चयनित विद्यालयों के विद्यालय प्रबंधन समिति (एसएमसी) के अध्यक्ष/सचिव शामिल हुए जिनके द्वारा अपने-अपने विद्यालय में मरम्मति और सामग्री आपूर्ति मद में आवश्यक मांग/कार्यों की सूची जिला योजना पदाधिकारी को उपलब्ध करायी गयी। इसमें विद्यालय का रंगरोगन, विद्युत व्यवस्था, पेयजल, शौचालय समेत, साइंस लैब के लिए सामग्री, सैनिटरी पैड वेंडिंग मशीन लगाना, कम्प्यूटर लैब का अधिष्ठापन समेत अन्य आवश्यक मूलभूत आवश्यकताओं से संबंधित सूची शामिल थी। उपायुक्त द्वारा जिला योजना पदाधिकारी को उपलब्ध सूची के आलोक में कार्ययोजना तैयार किये जाने का निदेश दिया गया।

बैठक में उत्क्रमित गवर्नमेंट उच्च विद्यालय बिटपी भण्डरा, डाॅ अनुग्रह नारायण उच्च विद्यालय कैरो, एसएस उच्च विद्यालय किस्को, गांधी मेमोरियल उच्च विद्यालय, माराडीह कुडू, उत्क्रमित गवर्नमेंट उच्च विद्यालय कुजरा लोहरदगा, प्रोजेक्ट उच्च विद्यालय मूंगो पेशरार और गवर्नमेंट नंदलाल उच्च विद्यालय अर्रू सेन्हा विद्यालय प्रबंधन समिति के अध्यक्ष/सचिव ने अपनी मांगे रखीं व आवश्यक सुझाव रखे।

बैठक में जिला शिक्षा अधीक्षक अखिलेश चौधरी, जिला योजना पदाधिकारी पीयूषा शालिना डोना मिंज, सहायक जिला योजना पदाधिकारी शिशिर तिग्गा, जिला उद्यान पदाधिकारी एमलेन पूर्ति, समग्र शिक्षा अभियान एडीपीओ अंबुज्य पांडेय, अभियंता व आदि उपस्थित थे।