पाकुड़ । कोरोना गाइड लाइन के साथ जिले भर के पूजा पंडालों में भक्ति भाव के साथ मां दुर्गा की पूजा प्रारम्भ हो गई है। पट खुलते ही श्रद्धालु मां के दर्शन कर श्री चरणों में नमन कर आशीर्वाद ग्रहण किये । शहर के शहरकोल, गोकुलपुर ,खदान पाड़ा, हरतिक्की ताला, तलवा डांगा सरस्वती पुस्तकाल , ग्वालपाड़ा , मुर्की मताल्ला, राजा पाड़ा ,सिंह वाहिनी मंदिर, काली तल्ला, महाकाल शक्ति पीठ, तांती पाड़ा बैंक कॉलोनी, श्याम नगर, मिलन मंदिर , रेलवे स्टेशन , रेलवे कॉलोनी, बागती पाडा , ठाकुरबाड़ी मंदिर, हरिन डांगा बाजार, कलिकापुरआदि में सोमवार के देर शाम देवी मां दुर्गा के आमंत्रण अधिवास के साथ पूजा की श्री गणेश हुई। मंगलवार को कलश स्थापना प्राणप्रतिष्ठा के साथ सातवीं पूजन पूरी रीति रिवाज विधि व्यवस्था के साथ की गई । गाइड लाइन के मद्दे नजर पंडालों में भीड़ नहीं लगने दी गई। जिला प्रशासन की ओर से प्रत्येक पूजा पंडालों में महिला एवं पुरुष पुलिस सुरक्षा के दृष्टिकोण से व्यवस्था की गई है । 13 अक्टूबर को 7:00 बजे से महाअष्टमी
पूजन होगी । रात्रि 11:25 में संधि पूजा। 14 अक्टूबर को महानवमी पूजा कन्या पूजा की जायेगी। विजया दशमी हवन यज्ञ किया जाएगा। कलश विर्जन के साथ ही नौ दिनों से चला आ रहा नवरात्रि पूजा का समापन किया जाएगा। अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अजीत कुमार विमल ने बताया कि दुर्गा पूजा के मद्दे नजर सुरक्षा के दृष्टिकोण से जिले में अतिरिक्त पुलिस बल मंगाए गए हैं । चौक चौराहों पर विशेष सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है। उन्होंने सभी भक्तों एवं पूजा पंडाल के निर्देशको समिति से आग्रह किया है वह सरकार के गाइडलाइन के अनुसार ही मां की पूजा को संपन्न कराएं जिला प्रशासन सोशल मीडिया एवं अन्य शरारती तत्वों पर नजर बनाए हुए हैं ।इसके साथ ही उन्होंने सभी को पूजा की हार्दिक बधाई दी है। उधर जिले के हिरणपुर , महेशपुर, आमरापडा, पाकुड़िया, लिट्टीपाड़ा में भी पूजा धूमधाम की हुई।