कुडू/लोहरदगा l शारदीय नवरात्रा महाअष्ठमी 13 अक्टूबर को कुडू प्रखंड के सभी पूजा पंडालों में व्रतधारी महिलाओं की भीड़ उमड़ पड़ी। कुडू बाजार ताड स्थित केंद्रीय दुर्गा पूजा समिति दुर्गा बाड़ी, भवानीपुर देवी मंडप स्थित मां भवानी पूजा समिति, नीचे स्टैंड स्थित जय माता दी दुर्गा पूजा समिति, बस स्टैंड के मा शक्ति पूजा समिति, ब्लॉक मोड़ स्थित मां अंबे पूजा समिति के अलावे टाटी, जिमा,विश्रामगढ़, ओपा, सुकमार, चापी, सलगी, लावागाई, रुद, डोरोटोली, जिलिंग, पंडरा, माराडीह, बरवाटोली, उडुमुडु, जिंगी आदि के पूजा पंडालों में सुबह 11 बजे देर शाम तक वर्तियों की लाइन रहा। सभी जगहों में पुरोहितों ने कई शिफ्ट में बारी-बारी से विधि-विधान से सामूहिक पूजा कराई । महिलाओं ने निर्जला उपवास रखकर माता दुर्गा के आठवीं स्वरूप माता गौरी की पूजा-अर्चना कर अपने परिवार व गांव-घर के खुशहाली की कामना की।

संध्या आरती में पंडालों में भक्तगणों का तांता
सभी पूजा पण्डालों में संध्या आरती में भक्तगणों का तांता लगा रहा । हालांकि कोरोना को लेकर जारी गाइडलाइन का अनुपालन करते हुए पूजा समितियों ने व्यवस्था बनाई है, बावजुद इसके कोरोना के खौफ के आगे माता की भक्ति व आस्था भारी नजर आया। सभी पंडालों में संध्या आरती के बाद महा प्रसाद का वितरण किया गया, तो कही भंडारा का आयोजन किया गया। जिसमें श्रद्धालुगण शामिल होकर प्रसाद ग्रहण किया। पूरा इलाका माता दुर्गा के भक्ति के रंग में रंगा गया है। पूजा पंडालों में चल रहे नवरात्रा पाठ, आरती और भक्तिमय गानो की धुन से पूरा इलाका गुंजायमान है।