खूंटी। राष्ट्रीय डाक सप्ताह के शुभ अवसर पर डाक परिवार द्वारा अंगराबाडी में बैंकिंग दिवस मनाया गया। इस अवसर पर डाक निरीक्षक, चंदन कुमार द्वारा लोगों को बचत पर जोर दिया गया क्योंकि “आज की बचत ही कल की सुरक्षा” है। डाकघर की बचत योजना लोगों की आवश्यकता के आधार पर बना है। डाकघर के बचत खाता को भाग्य विधाता की भी संज्ञा दी गयी है क्योंकि एक बचत खाता से सभी बचत और जनकल्याणकारी योजनाओं से जुड़ना सहज हो जाता है।

डाकघर सभी बचत योजनाओं में सबसे ज्यादा ब्याज देकर सुदूर ग्रामीण से लेकर शहरी लोगों के बीच लोकप्रिय बना हुआ है। यहाँ सभी तरह की बचत योजनाओं (आवर्ती/सावधि 1/2/3/5/किसान विकास और राष्ट्रीय बचत पत्र/पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड/वरिष्ठ नागरिक बचत योजनाओं आदि के साथ प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा/प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा/अटल पेंशन योजना का लाभ एक छत के नीचे मिलेगा) हमारे सभी देशवासी एजेंट के रूप मे जुड़कर 0.5 से 4.00 प्रतशित से लाखों रुपये आमदनी पा सकते हैं और आत्मनिर्भर बन सकते हैं।इस अवसर पर डाक निरीक्षक, चंदन कुमार द्वारा अमर शहीद गुमनाम स्वतंत्रता सेनानी गया मुंडा के वंशज श्री रामाय मुंडा के परिवार को डाकघर से जोड़ा गया । उन्हें बचत खाता और जनकल्याणकारी योजनओं (प्रधानमंत्री सुरक्षा/जीवन ज्योति बीमा योजना) से भी जोड़ा गया । उनसे आग्रह किया कि गाँव की 10 वर्ष तक के सभी बच्चियों का सुकन्या खाता खुलवाकर उनके भविष्य को शक्ति प्रदान करें ।

इस अवसर पर मिस विनीता टोप्पो, एरिया व्यवसाय मैनेजर, इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक, खूँटी ने कहीं की जिस तरह से डाकघर का खाता बचत का खाता है उसी तरह इस बैंक के खातों को खर्चे का संज्ञा दिया है। इस खाते से आप सारे ऑनलाइन कार्य कर सकते है। अब डाकघर ऑनलाइन की भी सुविधा प्रदान कर रहा है। इस खाते से आप किसी बैंक मे पैसा भेजे या मँगवा सकते है। अपने गाड़ी का बीमा भी कर सकते है।आज की आवश्यकता स्वास्थ्य बीमा का भी लाभ ले सकते हैं। इस तरह डाकघर मे एक छत के नीचे उच्च ब्याज पर बैंकिंग सुविधा, बीमा, पासपोर्ट और आधार भी बनवा सकते है। इस कार्यक्रम को सफल बनाने मे डाक परिवार, खूँटी के सभी सदस्य के अलावे आलोक कुमार, सुनील कुमार, दीपक कुमार पांडेय, जितेंद्र मिश्रा, अमित नाग, अतुल कुमार अंजान, फागू पाहन आदि उपस्थित रहे।