पाकुड़ । पाकुड़ से होकर एक भी पैसेंजर ट्रेन ना चलने से स्थानीय लोगो मे काफी गुस्सा है। लोग रेल मंडल व रेल प्रबंधक हावड़ा के खिलाफ गोलबंद हो रहे हैं। इस संबंध में समाज सेवी हिसाबी राय ने कहा किे पूर्व में हम लोगों ने बैठक कर के संयुक्त रूप से एक ज्ञापन मंडल रेल प्रबंधक,हावड़ा, मुख्य संचालन प्रबंधक पूर्व रेलवे,कोलकाता को हम लोगों ने ईस्टर्न जोनल रेलवे पैसेंजर्स एशोसिएशन के माध्यम से सौंपा था ।जिसका परिणाम हुआ कि एक्सप्रेस गाड़ियों का संचालन प्रारंभ हुआ था ।जिसमें इंटरसिटी और वनांचल एक्सप्रेस प्रमुख था।उक्त बैठक में सभी संगठनों के प्रतिनिधिगण, पूर्व विधायकगण शामिल हुए थे। किन्तु अन्य आवश्यक एवं पसेंजर ट्रेन अब तक प्रारम्भ ना होने से यात्री को काफी परेशान होना पड़ रहा है। जहा बरहरवा का किराया मात्र 10रू है वहीं ऑटो मे 80 से 100 रुपए देना पड़ता है। लोग डॉक्टर दिखाने मालदा रामपुर हाट जाते है । किन्तु यात्री ट्रेन नदारत है। यात्री काफी परेशान हैं। मुकेश कुमार शुक्ला उपाध्यक्ष जिला परिषद,घनश्याम टे वरीवाल,शुशील सहा ,राणा शुक्ला, पसन्न मिश्रा आदि ने बताया कि करोड़ों रुपए राजस्व देने वाला पाकुड़ हमेशा से उपेक्षा का शिकार रहा है। यात्री ट्रेनों में भारी कटौती होने से आम लोग परेशान हैं। कई बार ज्ञापन सौंपा गया पर रेल पदाधिकारियों को कोई फ्रक नहीं पड़ता है। यही स्थिति रही तो पाकुड़ की जनता चुप नहीं बैठेंगे। आगे के आंदोलन के लिए रूप रेखा व विचार विमर्श किया जा रहा है। उन्होंने रेल अधिकारियों से आग्रह किया की जलद से जल्द यात्री ट्रेन आरम्भ करें ताकि आम नगरिक सुलभ यात्रा कर सकें।