साहिबगंज ( मंडरो ) । मंडरो प्रखंड क्षेत्र समेत आसपास झारखंड -बिहार सीमा क्षेत्रो में विगत कुछ दिनों से लगातार हो रही छिटपुट बारिश से किसानों को फसल नष्ट होने का डर सताने लगा है। धान की फसल खेतों में पककर तैयार है।अब इसे काट कर खलिहानों तक ले जाकर समेटने की बारी है। ऐसे में साफ सुथरा मौसम का सख्त आवश्यकता है। परंतु कई दिनों से रोजाना कुछ घंटे के लिए हो रही बारिश से किसान अत्यंत परेशान है। बारिश के कारण धान की फसल खेतों में झुककर सड़ने एवं अंकुरित होने लगी हैं। जिसका सीधा खामियाजा किसानों को होता दिख रहा है।प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत भगैय्या , मंडरो , निमगाछी समेत आसपास झारखंड -बिहार सीमा वाले इलाके के किसानों के लिए बारिश और हवा इन दिनों रोजाना आफत बनकर बरस रही है। पिछले दो दिनों से प्रखंड क्षेत्र में हवा के साथ घंटों मूसलाधार बारिश हुई।